Ajit Pawar

– जायजा बैठक में उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने दी जानकारी

पुणे. कोयना प्रकल्पग्रस्तों के पुनर्वास के संदर्भ में राज्य सरकार पूरी तरह से सकारात्मक है, लेकिन अगर इसमें कुछ लोगों को गलत तरीके से जमीन दी गई है या फिर दोबारा जमीन दी गई है, ऐसे लोगों से जमीन वापस ली जाएगी, ऐसी जानकारी राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने दी.

पुणे के विधान भवन में उपमुख्यमंत्री अजित पवार की अध्यक्षता कोयना प्रकल्पग्रस्तों की जायजा बैठक का आयोजन किया गया. इस बैठक में अजित पवार बोल रहे थे. बैठक में विभागीय आयुक्त डॉ. दीपक म्हैसेकर, उपायुक्त साधना सावरकर, उपायुक्त संजयसिंह चव्हाण, जलसंपदा विभाग के कार्यकारी संचालक खलील अन्सारी, श्रमिक मुक्ति दल के प्रतिनिधि चैतन्य दलवी, वीडियो कान्फ्रेंसिंग से श्रमिक मुक्ति दल के प्रमुख डॉ. भारत पाटणकर, सातारा के जिलाधिकारी शेखर सिंह, सांगली के जिलाधिकारी डॉ. अभिजित चौधरी उपस्थित थे.

पुनर्वास उचित तरीके से हो

अजित पवार ने कहा कि पुनर्वास उचित तरीके से हों, इसके लिए प्रकल्पग्रस्त खाताधारकों की जानकारी संकलन किया जाए. इसके लिए विभिन्न विभागों के अधिकारी आपस में समन्वय बनाकर रखें. कोयना प्रकल्पग्रस्तों के पुनर्वास के प्रश्नों पर मंत्रालय स्तर पर जल्द फैसला लेकर नीतिगत फैसला लिया जाएगा. साथ में ऊर्जा विभाग की ओर प्रकल्पग्रस्तों की प्रलंबित मांगों को लेकर पहल की जाएगी, ऐसा आश्वासन अजित पवार ने बैठक में दिया.