महापौर मुरलीधर मोहोल को मिला डिस्चार्ज

  • 15 जुलाई तक रहेंगे होम क्वारंटाइन  

पुणे. कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से पिछले 6 दिनों से हॉस्पिटल में उपचार कराने के बाद महापौर मुरलीधर मोहोल को गुरुवार को हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई. कोरोना के कोई भी लक्षण दिखाई नहीं देने से डॉक्टरों ने उन्हें हॉस्पिटल से डिस्चार्ज दे दिया है, लेकिन 15 जुलाई तक उन्हें होम क्वारंटाइन होने को कहा गया है.

डॉक्टर व कर्मचारियों के प्रति आभार

महापौर मुरलीधर मोहोल ने सोशल मीडिया से जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना के कोई भी लक्षण दिखाई नहीं देने से हॉस्पिटल से डिस्चार्ज दिया गया. हालांकि होम क्वारंटाइन होने का नोटिस प्रशासन की ओर से दिया गया है. मेरा इलाज करने वाले डॉक्टर और सभी कर्मचारियों का आभार व्यक्त करता हूं. होम क्वारंटाइन की अवधि समाप्त होने के बाद पुणेवासियों के लिए फिर से 24 घंटे उपलब्ध रहूंगा.

परिवार के सदस्य भी थे संक्रमित

महापौर मुरलीधर मोहोल के साथ उनके परिवार के सदस्य भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे. महापौर का इलाज एक प्राइवेट हॉस्पिटल में तथा उनके परिवार के कुछ सदस्यों का इलाज हॉस्पिटल तथा कुछ सदस्यों का घर पर ही इलाज जारी है. महापौर और उनके परिजन जल्द ठीक होने के लिए सोशल मीडिया से बड़ी संख्या में उन्हें संदेश भेजे गए थे.