एमआईटी मिटकॉम एचआर कॉन्क्लेव का समापन

पुणे. एमआईटी आर्ट्स, डिज़ाइन एंड टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी के एमआईटी कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट (मिटकॉम) और आईसीटी एकेडमी की ओर से 19 से 21 सितंबर 2020 के दौरान आयोजित वर्चुअल एचआर कॉन्क्लेव का वर्च्युअल आयोजन किया गया.  इस एचआर कॉन्क्लेव में मानव संसाधन प्रबंधन की नई तकनीक, शिक्षा के नए प्रवाह और मानव संसाधन परिसंस्था पर चर्चा की गई.

कॉन्क्लेव का उद्घाटन अशोक लेलैंड के उपाध्यक्ष उमा राव, झोहो कॉर्पोरेशन के निदेशक राजेंद्र दंडापानी, सीआयसी इंडिया आयबीएम के निदेशक डॉ. सुब्रमणी रामकृष्णन और एमआईटी मिटकॉम की निदेशिका प्रा. डॉ. सुनीता कराड के हाथों से वर्चुअल माध्यम के द्वारा किया गया. इस समय एमआईटी स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग के प्रिन्सिपल डॉ. किशोर रावंदे, आईसीटी अकादमी के मुख्य प्रबंधक सुरेश बाबू आदि उपस्थित थे. हर साल की तरह इस साल भी एचआर कॉन्क्लेव एमआईटी एडीटी विश्वविद्यालय में आयोजित किया गया.

कई क्षेत्रों के लोगों ने किया मार्गदर्शन

 इस कॉन्क्लेव में कई क्षेत्रों के प्रतिष्ठित लोगों द्वारा छात्रों को मार्गदर्शन किया गया. कॉन्क्लेव के पहले सत्र में उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों ने मानव संसाधन प्रबंधन के क्षेत्र में जारी रहे बुनियादी ढांचे और प्रौद्योगिकी के विकास पर मार्गदर्शन किया. कॉन्क्लेव के दूसरे सत्र में एचआर वर्टुसा वरिष्ठ निदेशक चंद्रशेखर चेन्नियप्पन, रेनॉल्ट, निसान के उप महाप्रबंधक आनंद गुरुपथम, इंफोसिस कम्पाज़ के उपाध्यक्ष लक्ष्मी नारायणन द्वारा विभिन्न विषयों पर चर्चा की. एमआईटी कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट के एचओडी डॉ. विवेक सिंह ने इस परिसंवाद की प्रस्तावना की.