पुणे संभाग में 3 लाख से ज्यादा लोगों ने कोरोना को हराया

पुणे. महामारी कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच पुणे संभाग (पुणे, सातारा, सांगली, सोलापुर, कोल्हापुर जिलों) में बुधवार तक 3 लाख से ज्यादा संक्रमितों ने महामारी को मात देने में सफलता पायी है. गत 24 घंटे के भीतर महामारी के 5440 नए मरीज मिले हैं. इसमें अकेले पुणे जिले के 3291 नए मरीज शामिल हैं. पूरे संभाग में बुधवार तक 17 लाख 19 हजार 808 लोगों की टेस्ट की गई जिसमें से कुल तीन लाख 90 हजार 75 संक्रमित पाए गए हैं. उनमें से 3 लाख 2 हजार 758 मरीजों ने महामारी को मात दी है. फिलहाल 77 हजार 87 मरीजों का इलाज जारी है. अब तक 10 हजार 230 मरीजों की मौत हुई है. पूरे संभाग का रिकवरी रेट 77.62 और डेथ रेट 2.62 फीसदी दर्ज हुआ है.

रिकवरी रेट में लगातार हो रहा सुधार

पुणे के डिविजनल कमिश्नर सौरभ राव द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, पुणे जिले में मरीजों के ठीक होने यानी रिकवरी रेट में लगातार सुधार हो रहा है. बुधवार को जहां संक्रमितों का आंकड़ा दो लाख 57 हजार 797 तक पहुंच गया है. वहीं दो लाख 10 हजार 551 मरीज कोरोना को मात देकर अस्पताल से घर लौटने में सफल रहे हैं. इसके बाद पुणे जिले में महामारी का रिकवरी रेट बढ़कर 81.67 फीसद हो गया है. जिले में बीते 24 घण्टे के भीतर 3291 नए मरीज मिले हैं. फिलहाल जिले के अस्पतालों में दाखिल 41 हजार 487 मरीजों इलाज जारी है. अब तक 5795 मरीज महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चूके हैं. जिले में कोरोना से मृत्यु का प्रमाण 2.23 फीसदी है.

सातारा में मिले 690 नए मरीज

सातारा जिले में आज 690 नए मरीज मिले हैं. इसके बाद संक्रमितों का आंकड़ा 31 हजार 514 हो गया है. इसमें से 21 हजार 625 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट गए हैं. जबकि 940 मरीजों की मौत हो चुकी है. फिलहाल 8949 संक्रमित मरीजों का इलाज जारी है.

  • सांगली में आज 697 नए मरीज मिलने के बाद जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 30 हजार 719 हो गया है. हालांकि इसमें से 20 हजार 588 मरीज इलाज के बाद घर लौट गए हैं जबकि 1161 मरीजों की मौत हो गई है. फिलहाल 8970 मरीजों का इलाज चल रहा है.
  • कोल्हापुर में आज नए से 352 मरीज मिलने के बाद संक्रमितों की संख्या 40 हजार 325 हो गई है. इसमें से 1305 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 29 हजार 234 मरीज अस्पताल से घर लौट चुके हैं. फिलहाल 9787 मरीजों का इलाज चल रहा है.
  • सोलापुर में आज 410 नए मरीज मिलने के बाद जिले में मरीजों की संख्या 29 हजार 719 हो गई है. इसमें से 20 हजार 760 को अस्पतालों से डिस्चार्ज मिल गया है जबकि 1065 की मौत हो चुकी है. जिले के अस्पतालों में फिलहाल 7894 पॉजिटिव मरीजों का इलाज जारी है.