Police tighten the screws on smugglers of leopard skins

    पुणे. पुणे जिले (Pune District) के शिरुर तालुका (Shirur Taluka) में तेंदुए (Leopard) की खाल की तस्करी (Smuggling) करने के लिए दो लोगों के आने की जानकारी शिक्रापुर पुलिस (Shikrapur Police) को मिली थी। इसके बाद पुलिस टीम द्वारा कार्रवाई करते हुए दोपहिये वाहन समेत दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को आरोपियों के पास से तेंदुए की खाल बरामद हुई है। इन मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम दत्तात्रय देवराम शिंदे और दादासाहेब रामदास थोरात है।

    पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, शिकारपुर थाना पुलिस निरीक्षक उमेश तावसकर को जानकारी मिली थी कि शिक्रापुर-तलेगांव ढमढेरे रोड के पास त्रिमूर्ती गार्डन मंगल कार्यालय के पास कुछ युवक तस्करी के लिए तेंदुए की खाल बेचने आनेवाले हैं। इसके अनुसार, पुणे ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिनव देशमुख, अपर पुलिस अधीक्षक मिलिंद मोहिते के मार्गदर्शन में शिक्रापुर पुलिस थाने के सहायक पुलिस पुलिस निरीक्षक विक्रम सालुंके, पुलिस हवलदार सहदेव ठुबे, अमरदिन चमनशेख, पुलिस नाईक सचिन मोरे, संतोष शिंदे, योगेश नागरगोजे, मिलिंद देवरे, किशोर शिवणकर, निखील रावडे, अशोक केदार, राहुल वाघमोडे, प्रताप कांबले, प्रतिक जगताप आदि ने जाल बिछाकर उक्त दो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

    दो आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

    इस दौरान पुलिस टीम ने युवकों के पास बैग का निरीक्षण किया और उसमें तेंदुए की खाल मिली। पुलिस ने युवकों को गिरफ्तार किया और उनके पास से लगभग 10 लाख रुपये की तेंदुए की खाल जब्त की। शिकारपुर पुलिस ने दत्तात्रय देवराम शिंदे (30) और दादासाहेब रामदास थोरात (34) के खिलाफ वन्यजीव अधिनियम के तहत दर्ज किया गया है। आगे की जांच पुलिस निरीक्षक उमेश तावसकर के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक विक्रम सालुंके कर रहे है।