पुणेवासियों ने ठुकराया इजिप्त और ईरान का प्याज

पुणे. प्याज के दाम में उतार-चढ़ाव के बीच अफगानिस्तान के बाद पुणे के गुलटेकडी मार्केट में अब इजिप्त और ईरान से प्याज की आवक हुई है. मार्केटयार्ड में शनिवार को इजिप्त, ईरान से प्याज की 13 टन आवक हुई. मगर पुणे के स्थानीय होटल चालकों द्वारा प्याज की मांग नहीं की गई. वहीं खुदरा विक्रेताओं ने काफी थोड़ी मात्रा में प्याज की खरीदी की है. जबकि दक्षिण के व्यापारियों ने इस प्याज से एक टन की खरीदारी की है.

व्यापारी चंद्रशेखर पाटिल ने बताया कि इन प्याजों को ज्यादा पसंद नहीं किया जा रहा है. इजिप्त, ईरान का प्याज प्रति किलो 35 रुपए में बिक रहा है. 10 किलो प्याज 350 से 375 रुपए में मिल रहा है. ईरान का प्याज मध्यम आकर का है. भारतीय प्याज की तुलना में इजिप्त का प्याज ज्यादा टेस्टी नहीं है. इसलिए इसकी मांग कम है. इजिप्त के प्याज की बजाय स्थानीय क्षेत्र के पुराने प्याज को अधिक पसंद किया जा रहा है. यह प्रति किलो 30 से 50 रुपए में मिल रहा है.

दर में कमी आ गई 

पिछले सप्ताह पुणे के प्याज की काफी तंगी महसूस की गई थी. इसलिए प्याज के होल सेल बाजार में प्याज 50 रुपए से अधिक कीमत पर मिल रहा था जबकि खुदरा बाजार में यह 80 से 90 रुपए प्रति किलो बिक रहा था. हालांकि पुराने प्याज की फिर से आवक होने से पिछले सप्ताह के दर में कमी आ गई है. इस बीच अफगानिस्तान से मुंबई के रास्ते पुणे में प्याज पहुंची थी, लेकिन इस प्याज से पुणेवासियों ने मुंह फेर कर रखा था. उस प्याज को दक्षिण के व्यापारियों ने पसंद किया. प्याज का आकर बड़ा होने की वजह से उसका स्वाद ज्यादा अच्छा नहीं होने से पुणे के होटल चालकों ने इस प्याज को पसंद नहीं किया और इससे मुंह फेर लिया. इसके बाद अब शनिवार को इजिप्त, ईरान से प्याज की आवक हुई.  लेकिन रविवार को इस प्याज की अधिक मांग नहीं थी.