पेट्रोल-डीजल दरवृद्धि के खिलाफ शिवसेना का प्रदर्शन

पिंपरी. बीते छह सालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के कार्यकाल में पेट्रोल  (petrol) के दाम 91 रुपये और डीजल (Diesel) के दाम 79 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया है। आए दिन ईंधन के दामों में भारी बढ़ोतरी की जा रही है। इस पर सरकार का न कोई नियंत्रण है न कोई उपाय योजना। यह शिकायत करते हुए शिवसेना (Shivsena) की पिंपरी चिंचवड़ इकाई की ओर से रविवार को आकुर्डी के खंडोबा मंदिर चौक में प्रदर्शन किया गया। आंदोलन के दौरान मोदी सरकार विरोधी नारों से पूरा इलाका गूंज उठा। इस दौरान यह सवाल उठाया गया कि क्या यही है भाजपा सरकार के अच्छे दिन?

 आंदोलन में शामिल शिवसैनिक

जिला प्रमुख गजानन चिंचवड़े, पूर्व विधायक गौतम चाबुकस्वार, शहर प्रमुख योगेश बाबर के नेतृत्व में किये गये इस आंदोलन में शहर संगठक एड. ऊमिला कालभोर, नगरसेविका रेखा दर्शिले, पिंपरी विधानसभा संगठक सरिता साने, चिंचवड़ विधानसभा संगठक अनिता तुतारे, पिंपरी विधानसभा उप शहर प्रमुख अमोल निकम, तुषार नवले, उप शहर प्रमुख युवराज कोकाटे, पिंपरी विधानसभा संगठक विजय गुप्ता, पिंपरी विधानसभा संगठक रोमी संधू, चिंचवड़ विधानसभा संगठक दीपक ढोरे, चिंचवड़ विधानसभा उप शहर प्रमुख सोमनाथ गुजर, विजय साने, हरीश नखाते, युवासेना अधिकारी शर्वरी जलमकर, कार्यालय सचिव ज्ञानेश्वर शिंदे, विभाग प्रमुख सय्यद पटेल, राजू सोलापुरे, चेतन शिंदे, नाना कालभोर, गोरख पाटिल, सोनू संधू, प्रदीप दलवी, अनिल पारचा, मच्छिंद्र देशमुख, रामचंद्र जमखंडी, आधिकराव भोसले, सागर शिंद, प्रवीण शिंदे, लालचंद्र शर्मा, गणेश आहेर, सुनिल ओव्हाल, रविकिरण घटकर, विभाग संघटिका शिल्पा अनपन, मीना डेरे, पुष्पा तारू, भाग्यश्री म्हस्के, कांति शिंदे, माऊली जगताप, दत्ता शिंदे आदि शामिल थे।