Murder

पिंपरी. पैसों के लिए एक कपूत द्वारा अपने ही जन्मदाता पिता की सिर में पत्थर मारकर हत्या किए जाने की वारदात सामने आयी है. वारदात के 26 घंटे बाद गुरुवार की सुबह पिंपरी चिंचवड़ के दापोड़ी में हत्या का यह मामला सामने आया, जिसके बाद चंद घंटों में ही भोसरी पुलिस ने आरोपी पुत्र को धरदबोचा और उसे सलाखों के पीछे डाल दिया. मृतक का नाम सुनील मुतय्या पोलकम (68) है. उनकी हत्या के आरोप में पुलिस ने दत्ता उर्फ राजेश सुनील पोलकम (38) को गिरफ्तार किया है.

मृतक सुनील ने की थी दो शादियां

भोसरी पुलिस के मुताबिक, सुनील पोलकम ने दो विवाह किए थे, बाद में दोनों पत्नियों को तलाक देकर वे दापोड़ी में एक किराए के कमरे में गत 30 साल से अकेले ही रहते थे. वे एक नामी कंपनी से रिटायर हुए थे और पेंशन से गुजारा करते थे. उन्हें तंत्रविद्या का भी शौक था, उससे भी उन्हें अच्छी आय होती थी. उन्हें पहली पत्नी से दो बेटियां और एक बेटा एवं दूसरी पत्नी से दो बेटियां हैं. दत्ता उर्फ राजेश उनकी पहली पत्नी का बेटा था. वह ऑटो रिक्शा चलाता है, फिलहाल कोई काम नहीं करता था. उसे एक टेम्पो खरीदना था, जिसके लिए वह अपने पिता से लगातार पैसों की मांग कर रहा था. मगर वे उसे पैसे देने से मना करते थे.

टेम्पो खरीदने मांग रहा था पैसे

मंगलवार को दत्ता ने तय किया कि अगर पिता ने उसे पैसे न दिए तो वह उन्हें जान से मार देगा. उस दिन दोपहर में वह पिता के घर गया. पैसों को लेकर उनके बीच विवाद हुआ जिसमें गुस्से में आकर उसने पिता के सिर में पत्थर मार दिया. उनके घायल होकर गिरने के बाद उसने उन्हें कुर्सी से बांध दिया और उनका मुंह भी बांध दिया. इसके बाद उसने घर को बाहर से लॉक कर दिया और भाग निकला. मुंह बंद रहने से वे आवाज न कर सके और दो दिन तक लगातार हो रहे रक्तस्राव के चलते उनकी मौत हो गई. शक होने पर पड़ोसियों ने पुलिस को खबर दी और गुरुवार को उनकी हत्या की घटना उजागर हुई. इसके बाद चंद घंटों के भीतर भोसरी पुलिस ने आरोपी दत्ता को धरदबोचा. उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस छानबीन में जुट गई है.