4 हजार की घूस लेते पुलिस उपनिरीक्षक गिरफ्तार

पिंपरी. पुलिस थाने में दर्ज एक मामले में आरोपी को मदद करने के लिए उससे 4 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस बल के एक पुलिस उपनिरीक्षक को एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) पुणे की टीम ने रंगेहाथ पकड़ लिया. निवृत्ति सदाशिव चव्हाण (56) नामक गिरफ्तार पुलिस उपनिरीक्षक को शुक्रवार को अदालत में पेश करने पर उसे 19 अक्टूबर तक पुलिस कस्टडी में भेजने का आदेश दिया गया. 

19 अक्टूबर तक पुलिस कस्टडी

एसीबी से मिली जानकारी के अनुसार, निवृत्ति चव्हाण पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस के दिघी पुलिस थाने में तैनात हैं. एसीबी के पास शिकायत देनेवाले व्यक्ति के खिलाफ दिघी थाने में एक मामला दर्ज है. इस मामले में उसे मदद करने के लिए चव्हाण ने 5 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी. हालांकि बाद में बात 4 हजार रुपए पर तय हुई. इस बीच इसकी शिकायत एसीबी से की गई. इस शिकायत की पुष्टि करने के बाद एसीबी की टीम ने जाल बिछाकर रिश्वत के पैसे लेते हुए गुरुवार की देर शाम चव्हाण को रंगेहाथ पकड़ लिया. उसके खिलाफ दिघी पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है.