junior engineer hanged

पुणे. कोरोना के संकटकाल में पुणे में शुरू हुआ आत्महत्याओं का सिलसिला कहीं थमने का नाम नहीं ले रहा है. रविवार को यहां एक और दंपति फांसी झूल गई. वहीं एक अन्य घटना में एक चप्पल व्यवसायी ने भी मौत को गले लगा लिया है. मूल नेपाल के रहवासी रही दंपति की आत्महत्या की वजह घरेलू विवाद बताई जा रही है जबकि व्यवसायी की खुदकुशी की वजह नहीं पता चल सकी है.

खुदकुशी करनेवाली दंपति के नाम सूरज पालसिंह सोनी (27) व करीना पालसिंह सोनी (20) है. इस बारे में समर्थ पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है. वहीं सहकार नगर में सामने आयी दूसरी घटना में मरनेवाले का नाम शुभम राजेंद्र बोबडे (23) है. इस बारे में सहकरनगर पुलिस ने मामला दर्ज किया है.

एक और दंपति ने लगाया मौत को गले

समर्थ पुलिस के मुताबिक, एक सोसायटी में सुरक्षा रक्षक के तौर पर काम करनेवाले सूरज सोनी उसी सोसाइटी में रहते हैं. उनका अपनी पत्नी के साथ गत तीन दिन से किसी बात पर विवाद जारी था. कल करीना का भाई आया था इसलिए वह भाई के पास सो गई. सुबह जब वह उठी दरवाज़ा खटखटाया तो कोई आवाज नहीं आयी. दरवाजा तोड़कर देखा तब उन्होंने पति को फांसी से लटकता पाया. करीना का भाई सूरज के भाई को बुलाने गया. जब वह लौटा तब करीना ने भी फांसी लगा ली थी. इसके बाद करीना के भाई ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों को ससून हॉस्पिटल में दाखिल कराया जहां उन्हें मृत घोषित किया गया. 

एक व्यवसायी ने भी लगाई फांसी

सहकारनगर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, तुलसीबाग बाजार में चप्पल की बिक्री करनेवाले शुभम बोबडे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. शनिवार को वह अपनी बुआ के घर गया था, वहां उसने फांसी लगा की. इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची. शुभम ने खुदकुशी जैसा कदम क्यों उठाया? यह अब तक पता नहीं चल सका है. पुलिस छानबीन में जुटी हुई है.