RPI angry over loss of Athawale

    सांगली. सांगली (Sangli) दौरे पर रहे आरपीआई (RPI-A) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास आठवले (Ramdas Athawale) ने संवाददाताओं के साथ की गई बातचीत में महाराष्ट्र राज्य की राजनीति के संदर्भ में कई खुलासे और दावे किए। उन्होंने राज्य की ठाकरे सरकार को बेहद कमजोर बताकर उसके पांच साल तक टिकने को लेकर संदेह जताया है। यह सरकार टिकेगी नहीं इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) कोशिश में रहने का खुलासा भी उन्होंने किया।

    एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राजनीति में कभी भी कुछ भी हो सकता है। यह भी हो सकता है कि कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष नाना पाटोले भी हमारे पास आ जाएं। आठवले ने कहा कि राज्य की महाविकास आघाडी सरकार 5 वर्ष तक टिकने वाली नहीं है। उन्होंने ये भी दावा किया कि इसके लिए देवेंद्र फ़डणवीस कोशिश भी कर रहे हैं। महामारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मुद्दे पर उन्होंने राज्य के साथ ही पूरे देश से कोरोना भाग जाए, इसके लिए ‘गो कोरोना, नो कोरोना’ का नारा फिर दोहराया।

    राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई

    आरपीआई सुप्रीमो रामदास आठवले ने बीते दिन सांगली में संवाददाता सम्मेलन में यह आरोप भी लगाया है कि अभी राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है। इसके अलावा कोरोना मरीजों की संख्या भी निरंतर बढ़ रही है। इसलिए राज्य सरकार को इस तरफ गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है। मराठा समाज को आरक्षण मिलना चाहिए, इसके लिए हमारा समर्थन है। हमनें खुद इसकी मांग प्रधानमंत्री मोदी से की है। एमपीएससी की परीक्षा की तारीख आगे बढ़ाने उन्होंने कहा कि एमपीएससी की परीक्षा समय पर लेना चाहिए। साथ ही महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन ना लागू हो यही हमारी आशा है।