Money kept in credit society will now be safe

  • 15 परिवारों को प्रदान की जाएगी राशि
  • 48 कर्मियों की अब तक कोरोना से मौत

पुणे. शुरूआती दिनों में कोरोना ने पुणे में हड़कंप मचा रखा था। इसका प्रकोप रोकने के लिए महापालिका प्रशासन ने अपने सभी कर्मी कोरोना के काम में लगा दिए थे। प्रशासन ने कर्मियों के लिए 1 करोड़ का सुरक्षा कवर भी घोषित किया हुआ है। कोरोना से अब तक मनपा के करीब 48 कर्मियों की मृत्यु हो चुकी है।

इन कर्मियों के परिवारों को अब नियमानुसार मदद देने की प्रक्रिया के तहत कर्मियों के परिजनों को 25 लाख की मदद मिलेगी। क्योंकि इससे सम्बंधित जो प्रस्ताव प्रशासन ने आयुक्त के समक्ष रखा था, उसे आयुक्त ने मंजूर कर लिया है। इन परिवारों को देने के लिए चेक भी प्रशासन ने तैयार कर लिए हैं। पहले चरण में 30 जुलाई तक मृत कर्मियों को मदद दी जाएगी। ऐसे 15 परिवारों को आगामी हफ्ते में धनराशि दी जाएगी। ऐसी जानकारी महापालिका अतिरिक्त आयुक्त सुरेश जगताप ने दी।

कोरोना सुरक्षा कवर का प्रावधान

महापालिका ने अपने कर्मियों के लिए कोरोना सुरक्षा कवरयोजना लागू की हुई है। मनपा में पहले से ही मजजूर कल्याण निधि कार्यान्वित किया गया है। इसी निधि के तहत यह सहायता की जाएगी। महापालिका प्रशासन के निर्देशानुसार इस योजना के लाभार्थी मनपा के कर्मी व अधिकारी जिन्हें कोरोना का काम दिया गया है, ऐसे सभी लोग होंगे। क्योंकि स्वास्थ्य विभाग के अलावा सभी विभागों के कर्मी व अधिकारियों को मनपा प्रशासन ने इस काम में लगा दिया है। इसके तहत कर्मियों की मृत्यु हुई तो उसे 1 करोड़ की वित्तीय सहायता की जाएगी। अगर वारिस को नौकरी चाहिए तो नौकरी व 75 लाख की सहायता की जाएगी। इस योजना से संबंधित सभी अधिकार मजदूर कल्याण निधि समिति के पास हैं। इसके अलावा अब कई योजनाएं लागू की गई हैं।

 650 से अधिक कर्मी अब तक संक्रमित

शहर में कोरोना का काम करते हुए अब तक 48 मनपा कर्मियों  की मौत हो चुकी है। तो 650 से अधिक कर्मी संक्रमित पाए गए हैं। इसमें सफाई कर्मियों की तादाद ज्यादा है। इसमें से करीब 450 से अधिक कर्मियों को अस्पताल से डिस्चार्ज दिया गया है। इन कर्मियों के परिवारों को अब नियमानुसार मदद देने की प्रक्रिया प्रशासन द्वारा की जा रही है।  मनपा ने लगभग 7 प्रस्ताव बीमा कंपनी को भेजे थे।

दि न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी द्वारा यह प्रक्रिया की जा रही है। इसको लेकर हाल ही में सर्वदलीय नेताओं के साथ महापौर ने बैठक थी। आम सभा इसे मंजूरी देगी, इस भरोसे प्रस्ताव पर अमल करें व उन्हें 25 लाख की मदद करें। ऐसी दरखास्त महापौर ने मनपा आयुक्त से की थी। इसके अनुसार अब कर्मियों के परिजनों को 25 लाख की मदद मिलने का रास्ता साफ हो गया है। आयुक्त ने भी इसे हरी झंडी दिखा दी है। परिवारों को देने के लिए प्रशासन ने चेक भी तैयार कर लिए  हैं।

कोरोना से मृत कर्मियों के परिवारों को राशि देने की हमारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। महापौर मुरलीधर मोहोल के निर्देशानुसार आगामी हफ्ते में पहले 15 परिवारों को धनराशि दी जाएगी। शेष परिवारों को भी जल्द ही राशि का वितरण किया जाएगा।

– सुरेश जगताप, अतिरिक्त आयुक्त, महापालिका