मोबाइल क्लिनिक से 32 हजार लोगों का उपचार

– कांग्रेस के प्रदेश महासचिव मोहन जोशी की जानकारी

पुणे. कोरोना महामारी ने पूरे शहर को परेशान कर रखा है. इसका प्रकोप कम होता नहीं दिख रहा है. इस वजह से लोगों की सहायता के लिए शहर कांग्रेस की ओर से मोबाइल क्लिनिक शुरू किया गया है. इसके माध्यम से विगत 60 दिनों से करीब 32 हजार लोगों का मुफ्त में स्वास्थ्य उपचार किया गया. साथ ही उन्हें दवा भी दी गई. ऐसी जानकारी पूर्व विधायक व प्रदेश कांग्रेस के महासचिव मोहन जोशी ने दी.

 विभिन्न इलाकों में दी गई सेवा

इस बारे में मोहन जोशी ने कहा कि शहर में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है. खास तौर से कन्टेनमेंट जोन में कोरोना संक्रमितों की तादाद बढ़ती जा रही है. इस वजह से प्रशासन व लोगों की सहायता करने का फैसला कांग्रेस द्वारा लिया गया था. उसके अनुसार कांग्रेस ने राज्य व देश भर काम शुरू किया है. 

मुफ्त में दी जा रही है दवा

जोशी के अनुसार इस बीच शहर कांग्रेस की ओर से 17 अप्रैल से मोबाइल क्लिनिक शुरू किया है. विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं की माध्यम से यह काम किया जा रहा हैं. इसके माध्यम से लोगों पर उपचार करना व उन्हें मुफ्त में दवा देने का काम किया जा रहा है. अब तक 32 हजार से लोगों पर उपचार किए गए हैं.

लोगों का हुआ फायदा

जोशी ने कहा कि मोबाइल क्लिनिक का लोगों को खासा फायदा हो रहा है. झोपड़ी इलाके में  हमें 79 मरीज ऐसे मिले जो कोरोना संक्रमण की प्राथमिक अवस्था में थे. हमारे क्लिनिक से उन्हें मदद की गई. साथ ही प्रशासन ने भी तत्काल यहां अपनी टीम लगाकर लोगों को सेवा देने का काम किया. जोशी के अनुसार पीएमपी के कर्मियों की भी स्वास्थ्य जांच कर उन पर भी उपचार किए गए. मोबाइल क्लिनिक के डॉक्टरों को पीपीई किट, मास्क, सैनिटाइज़र की सुविधा आपूर्ति की गई.