arrest

 8 आपराधिक मामले उजागर

पुणे. पार्किंग में खड़े दोपहिया चुराने और लोगों के हाथ से मोबाइल फोन पर झपटा मारनेवाले दो शातिर बदमाशों को पुणे पुलिस की क्राइम ब्रांच के यूनिट 4 की टीम ने धर दबोचा है. उनसे 8 आपराधिक मामले उजागर हुए हैं और करीबन दो लाख का माल बरामद किया गया है.गिरफ्तार आरोपियों में अजय यशवंत सावंत (19, निवासी खडकी बाजार, पुणे) और राजेश बैजू नेटके (19, निवासी जुनी सांगवी, पुणे) शामिल हैं. इनमें से अजय सावंत पिंपरी चिंचवड़ के पिंपरी कैंप के बहुचर्चित हितेश मूलचंदानी हत्या के मामले का आरोपी रहने की जानकारी सामने आयी है.

खड़की में बिछाया जाल

यूनिट 4 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अंजुम बागवान ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि, पुणे में राहगीरों को रोककर उनके मोबाइल और अन्य मूल्यवान चीजों को लूटने की वारदातें बढ़ ही हैं.इस पृष्ठभूमि पर क्राइम ब्रांच को टीमें शातिर बदमाशों की जानकारी जुटाकर उन्हें दबोचने में लगी है.इस कड़ी में यूनिट 4 के कर्मचारी विशाल शिर्के व राकेश खुनवे को मुखबिर से पता चला कि,औंध में बेटी के साथ दोपहिया पर जा रही महिला के हाथ से मोबाइल छीनने वाले बदमाश खड़की इलाके में घूम रहे हैं.इसके अनुसार पुलिस टीम ने खड़की में जाल बिछाया और उक्त बदमाशों को पकड़ लिया.

अजय सावंत और राजेश नेटके ने पूछताछ में मोबाइल स्नैचिंग की वारदात स्वीकार की.दोनों को गिरफ्तार कर की पूछताछ करने पर उनसे पुणे के अलग-अलग जगहों पर लूटपाट की चार और वाहनचोरी की चार कुल आठ आपराधिक मामले उजागर हुए.यही नहीं उनसे एक लाख 90 हजार रुपए का माल भी बरामद किया गया.इस कार्रवाई को यूनिट 4 के पुलिस निरीक्षक अंजुम बागवान, उपनिरीक्षक विजय झंजाड, कर्मचारी सचिन ढवले, विशाल शिर्के, शंकर पाटिल, गणेश सालुंखे, निलेश शिवतारे, दत्ता फुलसुंदर के समावेश वाली टीम ने अंजाम दिया.