Wife, 3 daughters were 'imprisoned' if there was no son in Solapur, police rescued after a year and a half
प्रतीकात्मक तस्वीर

    सोलापुर. सोलापुर जिले (Solapur District) में अपनी पत्नी (Wife) का कथित तौर यौन उत्पीड़न करने और करीब डेढ़ वर्ष से पत्नी और 3 बच्चियों को घर के भीतर बंद रखने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार (Arrested) किया गया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पंढरपुर शहर के झेंडे गली इलाके में पुलिस ने एक घर पर छापा मारा और वहां से एक महिला (41) और उसकी 3 बेटियों को निकाला। महिला के पति को भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार) तथा अन्य संबंधित प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया है।

    ऐसे सामने आया मामला

    अधिकारी ने बताया कि यह मामला तब सामने आया जब एक महिला को उस घर के बाहर कागज का एक टुकड़ा पड़ा मिला जिस पर मदद मांगी गई थी। महिला ने इस बारे में पुलिस को सूचित किया। इसके बाद पंढरपुर पुलिस के निर्भया दस्ते ने घर पर नजर रखना शुरू किया और पीड़ितों को वहां से निकाला। महिला की बेटियों की आयु 8 वर्ष से 14 वर्ष के बीच है। मामले की जांच के दौरान पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया कि लड़के को जन्म नहीं देने से नाराज पति ने उसे घर के भीतर एक कमरे में डेढ़ साल से कैद कर रखा था। महिला ने शिकायत में बताया कि पति उसका यौन उत्पीड़न करता था। उसने बताया कि पति ने उसे कई बार गर्भपात करवाने के लिए मजबूर किया।