Surgical Gloves
File Photo

    पुणे. अनार की खेती में हुए नुकसान से परेशान और झटपट अमीर बनने की लालसा में एक किसान पुत्र को अगवा कर उसके पिता से पांच करोड़ रुपए की फिरौती (Ransom) मांगे जाने का मामला सामने आया है। बारामती (Baramati) की इस वारदात से समस्त पुणे जिले (Pune District) में खलबली मच गई है। बारामती पुलिस ((Baramati Police) ने 24 घंटे के भीतर छह में से दो अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार (Arrested) कर अपह्रत युवक को उनकी चुंगुल से सही सलामत छुड़ाया। सुनील लक्ष्मण दडस और गौरव साहेबराव शेटे ऐसे गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम हैं।

    पुणे ग्रामीण पुलिस के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मिलिंद मोहिते, उपविभागीय पुलिस अधिकारी नारायण शिरगावकर और पोलिस निरीक्षक नामदेव शिंदे ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी जानकारी देते हुए बताया कि शुक्रवार की रात कृष्णराज धनाजी जाचक (19) नामक युवक को छह लोगों ने मारपीट करते हुए गाड़ी में डालकर तब अगवा कर लिया जब वह सूर्यनगरी स्थित एक मैदान में अपने दोस्तों के साथ खेल रहा था। 

    पुलिस ने किया फोन का लोकेशन को ट्रेस

    इसके कुछ मिनटों बाद कृष्णराज के पिता धनाजी जाचक को फोन पर बेटे को सही सलामत पाने के लिए 5 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई। इतने पैसों की मांग किए जाने से धनाजी की आंखों के सामने अंधेरा छा गया। उन्होंने बारामती शहर पुलिस में इसकी जानकारी दी। इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस निरिक्षक नामदेव शिंदे ने तुरंत सारे सूत्र अपने हाथों में लेकर जांच शुरू की। इस बीच अपहरणकर्ताओं ने कृष्णराज की आंखों पर पट्टी बांधकर उसके साथ मारपीट शुरू रखी। उसे गाड़ी में डालकर माण तालुका के मलवडी की दिशा में ले गए। पुलिस ने जिस नंबर से धनाजी को फिरौती के लिए फोन आया तब उसका लोकेशन ट्रेस किया। 

    अपहृत युवक की रिहाई

    करीबन 12 घंटे में पुलिस अपहरणकर्ताओं का लोकेशन ढूंढने में सफलता मिली। पुलिस निरीक्षक नामदेव शिंदे के नेतृत्व में सहायक निरीक्षक प्रकाश वाघमारे और उमेश दंडिले, उपनिरीक्षक गणेश निंबालकर, सहायक फौजदार संजय जगदाले, कर्मचारी शिवाजी निकम, रुपेश सालुंके, दादासाहेब डोईफोडे, तुषार चव्हाण, जितेंद्र शिंदे, दशरथ इंगोले, योगेश कुलकर्णी, ओंकार सिताप, सायबर सेल के सुनील कोली, चेतन पाटील के समावेश वाली टीम ने मौके पर पहुंचकर दो अपरहणकर्ताओं को धरदबोचा और कृष्णराज को सही सलामत छुड़ाया। अन्य आरोपियों की शिनाख्त हो चुकी है, पुलिस उनकी खोजबीन में जुटी है।