दिसंबर 14 को लगने वाले सूर्य ग्रहण पर न करें ये काम

-सीमा कुमारी

हिन्दू पंचांग के अनुसार आखिरी सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर यानी सोमवार को लग रहा है| जो  5 घंटे तक रहेगा| सूर्य ग्रहण शाम 7 बज कर 3 मिनट से मध्य रात्रि तक यानी 15 दिसंबर की रात 12 बज कर 23 मिनट तक। तिथि अनुसार यह ग्रहण अगहन कृष्‍ण अमावस्‍या को घटित होगा। धर्म पंडितों के अनुसार, यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा इसलिए इसकी धार्मिक मान्‍यता उतनी नहीं है, जितनी अन्य  ग्रहण में होती है| दरअसल यह ग्रहण भारत में न लगकर विदेशों के लिए बताया जा रहा है| इस ग्रहण को दक्षिण अफ्रीका, प्रशांत महासागर सहित दक्षिण अमेरिका एवं मैक्सिको के कुछ इलाकों में देखा जाएगा। इसके अलावा यह सऊदी अरब, कतर, सुमात्रा, मलेशिया, ओमान, सिंगापुर, नॉर्थ आईलैंड मरीना, श्रीलंका और बोर्नियो में भी दिखाई देगा। चूंकि यह ग्रहण भारत में नज़र नहीं आएगा, इसलिए गत चंद्र ग्रहण की तरह इस सूर्य ग्रहण का भी कोई सूतक काल नहीं होगा एवं इसका यहां कोई प्रभाव नहीं होगा| भारतीय मान्‍यता अनुसार ग्रहण काल के दौरान कुछ चीजों की मनाही है| चलिए जानते हैं इस ग्रहण काल के दौरान क्या -क्या नहीं करना चाहिए|

  • ग्रहण काल में भोजन नहीं करना चाहिए|
  • इस दौरान चाय – पानी भी पीने की मनाही होती है|
  • इस दौरान तेज बोलना नहीं चाहिए|
  • ग्रहण काल के दौरान खासकर गर्भवती महिलाओं को कुछ विशेष काम नहीं करनी चाहिए | जैसे सब्जी काटना ,घर से बाहर आदि काम नहीं करनी चाहिए|
  • इस दौरान शुभ कार्य, मांगलिक कार्य आदि भी नहीं किए जाते हैं।   
  • गर्भवती महिलाएं अगर ऐसा नहीं करती हैं तो इसका शिशु पर बुरा असर पड़ सकता है। धार्मिक दृष्टि के अनुसार इस दौरान नकार शक्तियां जाग्रत होती हैं एवं वैज्ञानिक दृष्टि से इस समय सूर्य से निकलने वाला रेडिऐशन बहुत घातक होता है। इसलिए दोनों दृष्टियों के अनुसार ग्रहण काल में बाहर जाना बाधित है।