File Photo
File Photo

    -सीमा कुमारी

    सनातन हिन्दू धर्म में दान करना बड़ा पुण्य का काम माना गया है। ऐसे तो धार्मिक दृष्टि से दान करना हमेशा से ही पुण्य का काम बताया गया है। लेकिन कुछ चीजें ऐसी भी हैं, जिनका सूर्यास्त के समय दान कर रहे व्यक्ति या परिवार पर भी भारी पड़ सकता है। इससे आपकी आर्थिक स्थिति कमजोर हो सकती है। आइए जानें सूर्यास्त के बाद कौन-कौन सी चीज़ें  भूलकर भी दान नहीं करना चाहिए:

    • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, अगर कोई शाम के समय नमक मांगने आए तो उसे मना कर दें। ऐसा माना जाता है कि सूर्यास्त के बाद नमक देने से घर में धन में कमी आती है। इसलिए शाम के समय ऐसा करने से बचें।
    • दूध और दही के अलावा शाम के समय किसी को लहसुन और प्याज भी नहीं देना चाहिए। इसका संबंध केतु ग्रह से होता है। ऐसे में इनका दान करने से व्यक्ति को आर्थिक समस्या झेलनी पड़ सकती है।
    • वास्तु-शास्त्र के मुताबिक, शाम के समय लोग घर का मुख्य द्वार खोलकर रखते हैं। दरअसल माना जाता है कि इस समय घर में लक्ष्मी जी का आगमन होता है। ऐसे में धन किसी को देना लक्ष्मी को विदा करना माना जाता है। इसलिए शाम के समय किसी को न तो दान दें और न ही कर्ज। ऐसा करने से बिल्कुल बचें।
    • मान्‍यता है कि सूर्य डूबने के बाद किसी को पैसे दान देने से घर पर मां लक्ष्मी की कृपा नहीं रहती। साथ ही इससे घर में तंगी, गरीबी बनी रहती है।
    • कहा जाता है कि, शाम के समय किसी को  हल्दी भी नहीं देनी चाहिए। मान्यताओं के अनुसार, इससे गुरू कमजोर होता है, जिससे घर में बरकत नहीं रहती और धन में कमी आती है।
    • वास्‍तु के अनुसार, शाम के समय न ही किसी को उधार दें और न ही लें। साथ ही, दूसरों से कोई चीज मांगकर भी उसे इस्‍तेमाल न करें। माना जाता है कि इससे दूसरों की नेगेटिव ऊर्जा आप तक पहुंच जाती है।