जानें शनिवार के दिन क्या खरीदें और क्या नहीं?

    -सीमा कुमारी

    सनातन धर्म में शनिवार का दिन शनिदेव (Shanidev) को समर्पित है। इस दिन शनिदेव को खुश करने के लिए भक्तगण शनिदेव की पूजा-अर्चना करते हैं। शनिदेव की पूजा जो भी भक्त सच्चे मन और नियम का पालन करते हुए करता है, उनपर शनिदेव की कृपा और आशीर्वाद जरूर बनी रहती है। मान्यताएं है कि, अगर आपसे शनिदेव प्रसन्न हैं, तो आपके लिए सुख और समृद्धि हमेशा बनी रहती है। लेकिन, अगर शनिदेव आपसे प्रसन्न नहीं हैं, तो आपकी तरक्की या सुख के रास्ते हमेशा-हमेशा के लिए बंद हो जाते हैं। इसलिए, शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए कई नियमों का भी पालन करना पड़ता है। कहते हैं, शनिवार के दिन कुछ चीज़ें खरीदने से बचना चाहिए। चलिए जानें इस दिन क्या खरीदें क्या नहीं?

    क्या न खरीदें? 

    • कहते हैं कि शनिवार के दिन नमक नहीं खरीदना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि नमक खरीदने से कर्ज बढ़ता है और बीमारी भी बढ़ती है। इसलिए भूलकर भी इस दिन नमक नहीं खरीदना चाहिए। शनिवार को कई लोग दान भी नहीं करते हैं।
    • शनिवार के दिन काले रंग के जूते नहीं खरीदने चाहिए। अगर ख़रीदा करते हैं तो, ऐसा करने पर कार्य एवं तरक्की में बाधा आती है। इसलिए कोशिश करें कि इस दिन काले रंग के जूते न खरीदें।
    • कहते हैं कि, शनिवार के दिन लोहे का सामान खरीदना अशुभ होता है। अगर आप इन नियमों का पालन नहीं करते हैं, तो शनिदेव नाराज हो जाते हैं।
    • इस दिन लोहे से बनी चीजों का दान करना शुभ होता है। कहा जाता है कि शनिवार को छोड़कर किसी भी दिन लोहे से बनी चीजें खरीदी जा सकती हैं।
    • ऐसा कहा जाता है कि शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए काले तिल का भोग लगाना शुभ होता है, लेकिन इस दिन काला तिल खरीदना नहीं चाहिए। इससे इंसान की किस्मत के दरवाज़े बंद हो जाते हैं और उसे तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

    क्या खरीदें?

    • कहते हैं कि शनिवार के दिन झाडू खरीदना शुभ होता है। अगर आपकी झाडू खराब हो गई है तो शनिवार के दिन जरूर खरीदें। इस दिन झाडू खरीदने एवं काले रंग के कपड़े धारण करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं।
    • इन तमाम बातों से स्पष्ट होता है कि शनिदेव के प्रकोप से बचने के लिए उनके नियमों का पालन जरूर करें। ऐसा करने से शनिदेव शीघ्र प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों पर कृपा दृष्टि बनाएं रखते हैं।