शुक्रवार के दिन इन उपायों को कर मां लक्ष्मी को करें प्रसन्न

    -सीमा कुमारी

    सनातन धर्म में हर दिन किसी ना किसी देवी-देवता को समर्पित है। हिन्दू शास्त्रों के अनुसार, शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी का होता है। इस दिन जो भक्त मां लक्ष्मी की पूजा भक्तिभाव से करता है, उसे संसार के सभी सुखों की प्राप्ति होती है। लक्ष्मी मां धन की देवी मानी गई हैं। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, शुक्रवार के दिन कुछ उपाय करने से मां लक्ष्मी की कृपा होती है। सोई हुई किस्मत जागने लगती है। आइए जानें इस दिन कौन सा उपाय करने चाहिए… 

    • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, शुक्रवार के दिन एक पीला कपड़ा लेकर उसमें पांच कौड़ी, थोड़ा सा केसर डालें।  इन सब को बांधकर उन्हें अपनी तिजोरी में रख दें। सदहृदय से “ॐ श्रीं श्रीये नमः”- इस मंत्र का 108 बार एक माला जाप करने से मां लक्ष्मी की कृपा होती है।
    • मान्यताओं के अनुसार, गुलाबी रंग शुक्र ग्रह और मां लक्ष्मी जी का प्रिय रंग है। इसलिए मां लक्ष्मी की पूजा गुलाबी रंग के वस्त्र पहनकर ही पूजा करें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और कुंडली में शुक्र ग्रह बलवान होता है।
    • शुक्रवार के दिन शाम को गाय का घी का दीपक घर के ईशान कोण में जलाएं, इस दीपक में थोड़ा सा केसर डालें और रूई के स्थान पर लाल रंग के सूती धागे का प्रयोग करें। श्रीलक्ष्मीनारायण मंदिर में इत्र का दान करें। कहते हैं, ऐसा करने से जीवन के समस्त दुखों का अंत हो जाता है।
    • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर विष्णु भगवान का अभिषेक करें। इससे आर्थिक संकट हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है।
    • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, देवी अष्टलक्ष्मी की प्रतिमा को भी गुलाबी रंग पर रखना चाहिए। साथ ही मां की प्रतिमा के साथ श्रीयंत्र भी जरूर रखना चाहिए।
    • पूजा की थाल में गाय के घी के 8 दीपक भी जलाएं और गुलाब के सुगंध वाली धूपबत्ती जलाकर मां को मावे की बर्फी का भोग लागएं।