Shani Dev

    -सीमा कुमारी

    सनातन हिन्दू धर्म में शनिवार का दिन न्याय के देवता शनिदेव को समर्पित है। शनिदेव को कर्म और न्याय देवता भी कहा जाता है। ऐसा कहते हैं कि, शनिदेव व्यक्ति को उसके कर्मों के आधार पर अच्छा और बुरा फल देते हैं। यूं तो शनिदेव (Shani Dev) को प्रसन्न करना बहुत मुश्किल है, लेकिन एक बार शनिदेव किसी से प्रसन्न हो जाएं, तो उस व्यक्ति के जीवन की सारी परेशनियां दूर हो जाती हैं।

    अगर आप भी शनिदेव को प्रसन्न करना चाहते हैं, तो आपको शनिवार के दिन कुछ खास उपाय जरूर करनी चाहिए। कहते हैं कि इन उपायों को करने से शनिदेव शीघ्र प्रसन्न होते हैं। आइए जानें इन उपायों के बारें में-

    • मान्यताओं के अनुसार, शनिवार के दिन लोहे से बनी वस्तु खरीदने से बचना चाहिए, नहीं तो शनिदेव की नाराजगी का सामना करना पड़ सकता है, जबकि, इसका दान करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं। यदि आप शनिदेव को प्रसन्न करना कहते हैं, तो इस दिन लोहा से बनी चीजों का दान करें।
    • शास्त्रों के अनुसार. शनिदेव को आक का फूल (Crown Flower) अतिप्रिय है। इसलिए उनकी कृपा पाने के लिए शनिवार के दिन उन्हें सरसों तेल के साथ आक का फूल चढ़ाएं। इससे शनिदेव प्रसन्न होते हैं, और अपने भक्तों पर सदा आशीष बनाए रखते हैं।
    • शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए हनुमान जी और भगवान शंकर की पूजा जरूर करनी चाहिए। जो भी भक्त नियमित रूप से भगवान शंकर और हनुमानजी की पूजा-अर्चना करता है वह शनि की कुदृष्टि से बचा रहता है। इस दिन शिव चालीसा, हनुमान चालीसा, संकट मोचन हनुमान अष्टक आदि का पाठ जरूर करें।
    • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, शनिवार के दिन नमक खरीदने से शनिदेव नाराज होते हैं। ऐसे में इस दिन नमक खरीदने से बचना चाहिए। कहते हैं इन नियमों का पालन न करने पर सेहत से लेकर आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए बेहतर है कि इस दिन की जगह किसी अन्य दिन नमक खरीदें।
    • ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, शनिदोष से मुक्ति पाने के लिए शनिवार के दिन साबुत दाल और तिल का दान करें। इसके अलावा इसके कुछ दाने जेब में रखने से भी लाभ होता है।