Pic Credit: Google
Pic Credit: Google

    -सीमा कुमारी

    हिन्दू धर्म में महिलाओं को घर की लक्ष्मी व अन्नपूर्णा का दर्जा दिया जाता है। उसके द्वारा किए काम से घर में सुख-शांति एवं तरक्की आती है। लेकिन, शास्त्रों के अनुसार, कुछ काम ऐसे हैं, जिसे सूर्यास्त के बाद करने से बचना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि सूर्यास्त के बाद कुछ कामों को करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। वहीं दूसरी ओर, कुछ काम ऐसे हैं, जो परेशानियों व मुसीबतों को न्योता देने वाले माने जाते हैं। चलिए जानें कौन से काम घर की महिलाओं को सूर्यास्त के बाद  करना चाहिए और कौन से काम करने से बचना चाहिए…

    • वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर की महिलाओं को शाम को बाल धोने एवं बाल झाड़ने से बचना चाहिए। नहीं तो घर में परेशानियां होने के साथ आर्थिक समस्याएं हो सकती हैं।
    • ऐसा कहा जाता है कि महिलाओं द्वारा सोने से पहले बेडरूम में पेपर के ऊपर थोड़ा सा सेंधा या काला नमक रखने से और अगली सुबह उसे घर के बाहर फेंक देने से घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। घर में सुख-शांति व खुशहाली आती है। आप इस उपाय को हफ्ते में 1 बार कर सकती हैं।
    • कहते हैं कि धन की देवी लक्ष्मी को साफ-सफाई अधिक पसंद है। ऐसे में किचन रात-भर गंदा रहने से देवी लक्ष्मी नाराज हो सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि घर की सुख-शांति, खुशहाली व आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए सोने से पहले हमेशा किचन साफ करके ही सोना चाहिए।
    • मान्यताएं है कि, झाड़ू को हमेशा घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में छिपा कर ही सोएं,  इससे आर्थिक परेशानियां दूर होकर धन का आगमन हो सकता है।
    • ऐसा माना जाता है कि सूर्यास्त के बाद किसी से दूध, दही, तेल, प्याज व नमक नहीं मांगना चाहिए, न ही देना चाहिए। पालन न करने  से जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
    • कहते हैं कि, किचन में खाली बाल्टी रखने से बचना चाहिए। ऐसा करने पर घर में तनाव व कलह का माहौल बना रहता है। ऐसे में रसोई घर में रातभर पानी की बाल्टी भरकर रखें , इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होने के साथ सुख-शांति बनी रहेगी।