Image: Google
Image: Google

    -सीमा कुमारी

    हिन्दू धर्म में कोई भी शुभ कार्य करने से पहले विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा की जाती है। कहते है कि गणेश जी की पूजा के बिना कोई भी शुभ कार्य शुरू नहीं किया जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, आज यानी बुधवार को पूरे विधि विधान के साथ भगवान गणेश की पूजा की जाती है। भगवान गणेश भक्तों पर प्रसन्न होकर उनके दुखों को हरते हैं और उनकी सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। 

    कहा जाता है कि बुधवार को गणेश जी की पूजा और कुछ उपाय करने से समस्‍याएं दूर होती हैं। गणेश पूजा के लिए बुधवार का दिन शुभ और उत्तम होता है। शास्‍त्रों के अनुसार,भगवान गणेश जी को बुद्धि का दाता भी कहा गया है। उनका संबंध शिक्षा और ज्ञान से भी है। जिन लोगों के जीवन में शिक्षा संबंधी समस्याएं है उन्हें बुधवार को गणेश जी की पूजा जरूर करनी चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि जिन लोगों को नौकरी, पेशा अथवा करियर को लेकर परेशानियां है, तो उन्हें बुधवार के दिन प्रात: स्नान आदि करके भगवान गणेश की पूजा विधिवत रूप से करनी चाहिए। कहते है ऐसा नित करने से भगवान गणेश प्रसन्न होकर उनकी सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं, चलिए जानें  वो कौन सा उपाय है, जिसे करने से भगवान गणेश जल्दी प्रसन्न होते है…

    • ऐसा कहा जाता है कि अगर आप बप्पा को खुश करना चाहते हैं तो उन्हें मोदक का भोग जरूर लगाएं।
    • पौराणिक कथा के अनुसार,जो भी भक्त सच्चे मन से भगवान गणेश को मोदक का भोग लगाते हैं, उन भक्तो से भगवान गणेश जल्दी खुश हो जाते हैं और उन्हें मनवांछित वरदान देते हैं। इसलिए कहा जाता है कि अगर भगवान गणेश को प्रसन्न करना और उनका आशीर्वाद पाना चाहते है तो  भगवान गणेश को जरूर मोदक का भोग लगाएं।
    • कहते है बुधवार के दिन गणेशजी को साबुत मूंग के साथ धनिया का चूरमा प्रसाद के तौर पर चढ़ाने से भगवान गणेश जल्दी प्रसन्न होते है, क्योंकि ये भोग गणेश जी को अति प्रिय   है। उन्हें चूरमा का भोग लगाने से खास कृपा प्राप्त होती है। 
    • गुरुजनों के मुताबिक, हर बुधवार गणेशजी को पांच दूर्वा अर्पित करने से बुद्धि और ज्ञान बढ़ता है। साथ ही आर्थिक तंगी से भी छुटकारा मिलती है।
    • धार्मिक दृष्टि से गणपति स्त्रोत का पाठ करने से सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है और आने वाली कष्टों और बाधाओं से भी रक्षा होती है।