प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

    आज यानी 21 मार्च (21 March) को पृथ्वी (Earth) के लिए सबसे बड़ा दिन माना जा रहा है। आज का दिन इतिहास के तौर पर जाना जाएगा, क्योंकि आज धरती के पास से एक विशाल एस्‍ट्रॉयड (Giant Asteroid) गुजरने वाला है। जिसका मतलब है कि यह विशाल एस्‍ट्रॉयड धरती के बेहद नजदीक होगा (Astroid will be very close to the Earth)। हांलाकि, इसका पृथ्वी से टकराना न के बराबर है, लेकिन खगोल विज्ञानिकों (Astronomers) की पूरी नज़र इसपर टिकी होगी। यह अंतरिक्ष में एक अनोखा नज़ारा पेश करने वाला है। इस एस्‍ट्रॉयड का नाम 2001 FO32 है।

    यह धरती के बेहद नजदीक होगा, लेकिन यह सवा सौ मिलियन मील या 2 मिलियन किमी की दूरी पर होगा। अगर आसन भाषा में समझे तो ये एस्‍ट्रॉयड जब धरती के पास से गुजरेगा तो वो दूरी धरती के चांद की दूरी का करीब 5 गुना दूर होगी। नासा के मुताबिक, ये विशाल एस्‍ट्रॉयड का धरती से टकराने की कोई भी गुंजाइश नहीं है।  

    एस्टेरॉयड की रफ्तार

    ये विशाल एस्टेरॉयड 124000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। वहीं नासा के अनुसार,   दूसरे एस्टेरॉयड के मुकाबले इसकी स्पीड काफी तेज़ है। साथ ही ये 39 डिग्री पर सूर्य के चक्कर काट रहा है। इसकी रफ़्तार एक स्केटिंग की तरह घटती बढ़ती रहती है। सूर्य के एक चक्कर काटने में इसे 810 दिन यानी करीब सवा दो साल लग जाते हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक अब ये 2052 में दोबारा धरती के करीब आएगा।