अत्यधिक बारिश से सभी जल प्रकल्प ओवर फ्लो, काटेपूर्णा बांध के सभी गेट खोले

    • प्रशासन द्वारा नदी के किनारे 
    • रहनेवालों को सावधान रहने का इशारा

    अकोला. लगातार शुरू बारिश की झड़ी के कारण जिले के सभी जलप्रकल्प ओवर फ्लो हो रहे हैं. अकोला शहर में जलापूर्ति करनेवाले महान गांव में स्थित काटेपूर्णा बांध के सभी दस गेट 30 सेमी तक खोल दिए गए हैं. क्योंकि काटेपूर्णा बांध में लगातार पानी आना शुरू है. गेट खोलने के कारण अब बांध के पानी की लगातार निकासी शुरू है.

    इस बार बारिश के मौसम में बांध कई बार शत प्रतिशत भर चुका है. इसी तरह दगड़पारवा बांध का भी एक गेट खोला गया है. यह गुट 2.50 सेमी तक खोला गया है. निर्गुणा प्रकल्प से भी पानी की निकासी शुरू की गयी है. मन प्रकल्प के भी पांच गेट खोले जाने की जानकारी मिली है. नदी के किनारे रहनेवालों को जिला प्रशासन द्वारा सावधान रहने का इशारा दिया गया है.

    इस समय काटेपूर्णा बांध में 96.06 प्रश पानी है, इसी तरह वान प्रकल्प में 94.66 प्रश, निर्गुणा बांध में शत प्रतिशत, इसी तरह मोर्ना और उमा प्रकल्प भी शत प्रतिशत भर चुके हैं. जिले की सभी नदियों तथा नालों में जलस्तर काफी बढ़ रहा है. इसी तरह अकोला शहर के मध्य भाग से बहनेवाली मोर्ना नदी का जलस्तर भी काफी बढ़ा है. जिले की कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार बारिश के कारण आवागमन प्रभावित होने की भी जानकारी है. अभी भी मौसम विभाग द्वारा 30 सितंबर तक सावधान रहने का इशारा किया गया है. 

    जिले में 21.3 मि.मी. बारिश

    सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला जिले में आज सुबह औसतन 21.3 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी है. इसी तरह अकोला तहसील में 23.3 मि.मी., अकोट तहसील में 19.7, तेल्हारा में 15.2, बालापुर में 19.1, पातुर में 23.5, बार्शीटाकली में 23.0, मुर्तिजापुर में 23.8 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी है. 

    मौसम हुआ ठंडा

    पिछले तीन दिनों से शुरू लगातार बारिश के कारण उमस और गर्मी से लोगों को काफी राहत मिली है. इस समय मौसम काफी ठंडा हो गया है. लगातार ठंडी हवाएं शुरू हैं. काफी समय के बाद मौसम ठंडा हुआ है. पिछले कुछ दिनों पहले लोग भीषण गर्मी और उमस से परेशान हो गए थे.