Love Jihad

यद्यपि स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत अंतरधर्मीय विवाह को मान्यता मिली हुई है और भिन्न धर्मों के बालिग युवक-युवती इसके अंतर्गत विवाह करने को स्वतंत्र हैं परंतु बीजेपी शासित राज्यों ने मुस्लिम युवक और हिंदू युवती के विवाह पर कड़ा एतराज जताते हुए इसके खिलाफ लव जिहाद (Love Jihad laws) कानून बनाने की तैयारी दर्शाई है. उत्तरप्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार ने इस दिशा में पहल की है. मध्यप्रदेश व उत्तराखंड की बीजेपी सरकारें भी इस तरह के कानून को लेकर तत्परता दिखा रही हैं. बीजेपी नेता मानते हैं कि धर्मांतरण के लिए मुस्लिम युवाओं द्वारा लव जिहाद का इस्तेमाल किया जा रहा है इसके लिए इस्लामी देशों से मोटी रकम आती है. मुस्लिम युवक खुद की पहचान छुपाकर या फर्जी नाम बताकर हिंदू लड़कियों को अपने प्रेमजाल में फंसाकर विवाह कर लेते थे. बाद में हकीकत सामने आती थी.

गरीब परिवार की या भोली-भाली लड़कियां इस जाल में फंस जाया करती थीं. लव जिहाद के पीछे भारत में मुस्लिमों की तादाद बढ़ाने और हिंदुओं की संख्या कम करने का मकसद बताया जाता है. दूसरी ओर आलोचकों का कहना है कि अंतरधर्मीय विवाह कोई नई बात नहीं है. जोधा-अकबर के समय से यह परंपरा रही है. बाजबहादुर-रूपमती की प्रेमकथा मशहूर है. आमिर खान की पत्नी किरण राव हिंदू हैं. अभिनेत्री रीना राय ने पाकिस्तानी मुस्लिम से शादी की थी. सलीम खान की हिंदू पत्नी की संतान अभिनेता सलमान खान हैं. रेडियो उद्घोषक अमीन सयानी की पत्नी का नाम रमा था. अमृता प्रीतम और साहिर लुधियानवी का प्रेम चर्चित रहा था. इसे व्यक्तिगत आजादी से जोड़ा जा रहा है.

महाराष्ट्र की आघाड़ी सरकार में टकराव

कट्टर हिंदुत्व विचारधारा की पहचानवाली शिवसेना के लिए महाराष्ट्र में लव जिहाद कानून को लेकर धर्म संकट की स्थिति उत्पन्न हो गई है. शिवसेना को आघाड़ी में एनसीपी और कांग्रेस जैसी 2 सेक्यूलर पार्टियों को लेकर चलना है. ठाकरे सरकार में कांग्रेस कोटे के कैबिनेट मंत्री असलम शेख ने अपने बयान में कहा कि महाराष्ट्र में लव जिहाद के खिलाफ कोई कानून लाने की जरूरत नहीं है. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो सरकारें अपनी नाकामी छिपाना चाहती हैं, वे ऐसे कानून ला रही हैं. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की इस बारे में कोई टिप्पणी सामने नहीं आई है.

शिवसेना को घेरेगी क्चछ्वक्क

लव जिहाद कानून को लेकर महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता व पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना को घेरने की तैयारी शुरू कर दी है. उन्होंने कहा कि देश में लव जिहाद के कई मामले सामने आ रहे है. केरल में बीजेपी की सरकार नहीं है लेकिन वहां भी इस समस्या को माना गया है. जब इस तरह के मामले सामने आते हैं तो सरकार की जिम्मेदारी बन जाती है कि इसे रोकने के लिए कानून बनाया जाए. बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने लव जिहाद को लेकर शिवसेना को आड़े हाथ लिया और कहा कि महाराष्ट्र में कांग्रेस के साथ सरकार बनाने के बाद शिवसेना प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की भाषा बदल गई है. सोमैया ने अंदेशा जताया कि कांग्रेस के दबाव में अब शिवसेना भी लव जिहाद पर कानून बनाने से पीछे हट जाएगी. बीजेपी विधायक राम कदम ने कहा कि क्या शिवसेना लव जिहाद जैसे चिंताजनक मुद्दे पर सत्ता के लालच की वजह से चुप है? क्या शिवसेना भूल गई कि शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे इस मुद्दे पर क्या कहते थे? कांग्रेस की ओर से लव जिहाद के पक्ष में दिए जा रहे बयानों का समर्थन नहीं किया जा सकता.

जांच एजेंसी सक्रिय

लव जिहाद को लेकर केंद्रीय जांच एजेंसी महाराष्ट्र में यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि यहां कौन सी ऐसी संस्थाएं हैं जो लव जिहाद को बढ़ावा देने का काम कर रही हैं. केंद्र सरकार ऐसी ठोस जानकारी जुटाना चाहती है ताकि साबित किया जा सके कि लव जिहाद को रोकने के लिए महाराष्ट्र में भी कानून बनाए जाने की आवश्यकता है.