भाजपा किसान मोर्चा ने मनाई काली दिवाली, उप विभागीय अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

    गोंदिया. धान की फसल पर गाद व कीड़ों से प्रभाव से धान उत्पादन पर इसका असर हुआ है. इससे लेकर किसान त्रस्त हो गए है.  भाजपा ने   इस संबंध में शासन को ज्ञापन देकर  तत्काल पंचनामा कर  मुआवजे की मांग की थी लेकिन ध्यान नहीं दिया गया. इस कठीन स्थिति में धान के बोनस की घोषणा नहीं हुई नुकसाग्रस्त किसानों के अब तक भरपाई नहीं मिली.

    इसे लेकर   भाजपा  किसान मोर्चा द्वारा  2 नवंबर को महाविकास आघाड़ी सरकार के विरोध में  आंदोलन किया गया. भाजपा ने यह दिवाली किसानों के लिए काली दिवाली निरुपित करते हुए प्रशासकीय भवन में प्रतिकात्मक दीये लगाकर मुख्यमंत्री के नाम उप विभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा.

    जिसमें कीडों के प्रकाप से नुकसानग्रस्त किसानों को प्रति एकर 25 हजार रु मदद देने, धान खरीदी केंद्र शुरू करने के पहले बानेस की घोषणा करने,  गत वर्ष घोषित 50 हजार  रु. प्रोत्साहन राशि का तत्काल भुगतान करने,  विशेष सिंचाई कुओं का अनुदान देने,  जंगली सुअरों क्षतिग्रस्त फसल की नुकसान भरपाई देने आदि मांगों का समावेश है.  सरकार को चेतावनी दी गई है कि अगर अगले 15 दिनों में किसानों की मांगें पूरी नहीं की गईं तो भाजपा द्वारा तीव्र  आंदोलन किया जाएगा. 

     पूर्व विधायक रमेश कुथे, पूर्व  जिप अध्यक्ष नेतराम कटरे, भाजपा जिला संगठन  महामंत्री संजय कुलकर्णी, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष  संजय टेंभरे, भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष  भावना कदम,   ग्रामीण मंडल अध्यक्ष धनलाल ठाकरे, शहर अध्यक्ष सुनील केलनका, दवनीवाडा मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र अटरे, ओबीसी आघाडी जिलाध्यक्ष  गजेंद्र फुंडे, जिला उपाध्यक्ष नंदकुमार बिसेन, योगराज रहांगडाले, मनोज मेंढे, अर्जुन नागपुरे, देवचंद नागपुरे, छाया आत्माराम दसरे, शालिनी डोंगरे, सोमेश्वर तुरकर, सुनील टेंभरे, हिरालाल टेंभरे, खेमनबाई बिरणवार, संतोष रहांगडाले, कुलदीप रीनायत, देवलाल पटले, भोजनलाल बिसेन, सुभाष बागडे, नेहरू उपवंशी, गोल्डी गावंडे, संजय मुरकुटे, अशोक जयसिंघानिया, बाबा बिसेन, मनोज पटनायक, बबली ठाकूर, देवेंद्र टेंभरे, रतनलाल बघेले, उत्तम भगत, पलाश लालवानी, जीवन पटले, विजय ठाकरे, सुरेंद्र पुराम, गुड्डू पारधी, यवन रांगले, योगराज उपराडे, पुरण भंडारी, प्रवीण पटले, सुरेंद्र दमाहे, मंगलेश गिरी आदि उपस्थित थे.