विश्व के 5 देशों में 2050 तक सबसे ज्यादा हिंदू होंगे

    अमेरिकी थिंक टैंक (Think Tank) पर प्यू रिसर्च सेंटर के अध्ययन में यह बात सामने आई है कि सन 2050 तक 5 देशों में सर्वाधिक हिंदू होंगे. तब हिंदू धर्म माननेवालों की तादाद वैश्विक आबादी की 15 फीसदी होगी. अभी सबसे अधिक हिंदू (Hindus) भारत में हैं जो कुल आबादी के लगभग 80 प्रतिशत हैं. हिंदू जनसंख्या में दूसरे क्रमांक पर नेपाल है जहां 2011 की जनगणना में 81.3 प्रतिशत लोगों ने खुद को हिंदू बताया था. 2006 से पहले तक नेपाल घोषित तौर पर विश्व का एकमात्र हिंदू राष्ट्र था.

    प्यू रिसर्च सेंटर (Pew Research Center) ने 2050 तक पाकिस्तान (Pakistan) में हिंदू 5.63 मिलियन हिंदू होने का अनुमान व्यक्त किया है लेकिन पाकिस्तान में अपहरण व जबरन धर्म परिवर्तन के मामले इतने अधिक हैं कि इस अनुमान को लेकर संदेह हो सकता है. पाकिस्तान निर्माण के समय वहां जितने हिंदू थे, उनकी तादाद घटती ही रही है. बांग्लादेश (Bangladesh) में हिंदू 8.96 फीसदी आबादी के साथ अल्पसंख्यक हैं. अमेरिका में हिंदू आबादी बढ़ रही है. अध्ययन के मुताबिक 2050 तक वहां 4.78 मिलियन हिंदू होंगे और तब हिंदू आबादी के मामले में अमेरिका विश्व का पांचवां बड़ा देश हो सकता है. 2015 में अमेरिका में हिंदू आबादी 22.3 लाख हो चुकी थी जो इसके बाद के वर्षों में और बढ़ी होगी. विश्व की आबादी में ईसाई सर्वाधिक हैं. इसके बाद मुस्लिम आबादी है फिर हिंदू हैं. इसके बाद बौद्धों की आबादी है. ईसाई व मुस्लिम लोगों का धर्मांतरण करके अपनी संख्या बढ़ाते हैं जबकि हिंदू किसी को हिंदू नहीं बनाता.