Karnataka government's decision, 10th class examinations will be held in the state in July
File Photo

    वर्धा. स्वास्थ्य विभाग के ग्रुप सी एवं डी के रिक्त पद राज्य सरकार द्वारा भरे जा रहे है़ं  किंतु इस पदभर्ती प्रक्रिया में अनेक खामियां उजागर हो रही है़ं  आनेवाली 25 एवं 26 को परीक्षा का आयोजन किया है़  किंतु स्वास्थ्य विभाग की साईट नहीं चलने से उम्मीदवारों के हॉल टिकट डाउनलोड नहीं हो रहे़  कुछ उम्मीदवारों को हॉल टिकट ईमेल पर प्राप्त हो रही है़  लेकिन परीक्षा नजदीक आने के बावजूद ऐसे कई उमेदवार है जिन्हें हॉल टिकट प्राप्त नहीं हुई है़  जिससे उनपर परीक्षा से वंचित रहने की नौबत आ सकती है.  

    वर्धा जिले के सरकारी अस्पताल में भर्तियां

    कोरोना के मद्देनजर जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था मजबुत बनाने के दृष्टीकोण से सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे है़  जिसमें वर्धा समेत  जिले के 35 सरकारी अस्पतालों में यह जगह भरी जा रही है़  जिसके लिए जिले के इच्छुक अनेक उम्मीदवारों ने आवेदन भरे है़ं  अब परीक्षा को केवल एक दिन बाकी है़  ऐसे में हॉल टिकट प्राप्त नहीं होने से परीक्षा शुल्क भरने के बावजूद भी उम्मीदवारों को परीक्षा से वंचित रहने डर निर्माण हो गया है. 

    ग्रुप सी व ग्रुप डी के विभिन्न पद

    25 एवं 26 को होनेवाले ग्रुप सी में काउंसलर, केमिकल असिस्टेंट, लैब टेक्निशीयन, नेत्र चिकित्सा अधिकारी, सांखिकी अन्वेषक, मनोविकृति सामाजिक कार्यकर्ता, व्यवसोपचार तज्ञ, प्रयोगशाला वैज्ञानिक अधिकारी, एक्स रे टेक्निशियन व असिस्टंट, आहात तज्ञ, ईसीजी तज्ञ, डायलिसीस तज्ञ, फार्मसी ऑफीसर आदि 52 पदों का समावेश है़  जबकि ग्रुप डी में हेल्पर, सिपाही, पंप परिचरक, लेदर वर्कर, हॉस्पीटल सर्वंट, अटेंडन्ट, नर्सिंग ऑर्डीलरी, आया, प्रयोगशाल स्वच्छक आदि 40 विभिन्न पदों का समावेश है.  

    आवेदन शुल्क का हुआ नुकसान

    आवेदन भरने विभाग द्वारा निर्देश जारी किए थे़  जिसमें 2 से जादा पदों के लिए आवेदन भरने के बारें में किसी भी प्रकार की सुचना नहीं थी़  परीक्षा अलग-अलग समय पर रहने से कई उम्मीदवारों ने 1 से अधिक आवेदन भरे़  परीक्षा का 600 रुपयों तक का शुल्क भी भरा़  किंतु उनका केवल 1 ही आवेदन मान्य करते हुए अन्य आवेदन रद्द किए गए है़ं  पहले अगर निर्देशों में सूचना होती तो उम्मीदवारों ने आवेदन ही नहीं भरे होते़  जिससे उम्मीदवारों के आवेदन शुल्क का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है.  

    दूसरे पद का मिला हॉल टिकट

    स्थानीय स्वास्थ्य विभाग में ठेका पद्धति से कार्यरत एक कर्मचारी ने स्टाफ नर्स पद के लिए आवेदन भरा था़  किंतु उन्हें डेंटल मैकेनिक का आवेदन प्राप्त हुआ है़  परीक्षा का पाठ्यक्रम भिन्न रहने से उमीदवार के सामने परीक्षा से वंचित रहने की नौबत आयी है़  संबंधित विभाग को मेल करने के बावजूद भी किसी भी प्रकार का रिप्लाई नहीं आने से उम्मीदवार द्वारा रोष व्यक्त किया जा रहा है.