गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र भाई पटेल पहुंचे अयोध्या, मंत्रीमंडल समेत किए श्रीरामलला का दर्शन

Loading

अयोध्या: गुजरात के सीएम भूपेंद्रभाई पटेल के नेतृत्व में उनका मंत्रिमंडल शनिवार को श्रीरामलला का दर्शन करने अयोध्या पहुंचा। 25 सदस्यीय डेलिगेशन सुबह महर्षि वाल्मीकि इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर विशेष विमान से पहुंचा।

योगी सरकार के मंत्री ने किया स्वागत 

योगी सरकार में कृषि मंत्री व अयोध्या के प्रभारी मंत्री सूर्य प्रताप शाही व संगठन की तरफ से शैलेंद्र कोरी ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल व उनके कैबिनेट मंत्रियों, अधिकारियों को माला पहनाया एवं अंगवस्त्र भेंटकर स्वागत किया। वहीं सांस्कृतिक मंच के कलाकारों ने उनके स्वागत में लोकनृत्य की प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गुजरात प्रदेश से आए अतिथियों की सुरक्षा व्यवस्था के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे।

यह अवसर हम सबके लिए भावुक और श्रद्धापूर्ण: भूपेंद्र पटेल

गुजरात के CM भूपेंद्र पटेल ने कहा “मुझे मेरे मंत्री परिषद के सभी सदस्यों के साथ प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर में दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। यह अवसर हम सभी के लिए बहुत ही भावुक और श्रद्धापूर्ण है।”  उन्होंने कहा “विश्व के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में अयोध्या मंदिर में प्रभु श्रीराम चंद्र जी का औलौकिक प्राण प्रतिष्ठा देश में नए काल चक्र का उद्घोष है। इतना ही नहीं अगले एक हजार वर्ष के लिए रामराज्य की स्थापना का यह संकल्प भी है। राम मंदिर भारत की दृष्टि के दर्शन का मंदिर बन गया है। सही अर्थों में यह मंदिर राष्ट्र के चेतना और नव जागरण का मंदिर बना है। श्री रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का समारोह राष्ट्र उत्सव के रूप में मनाया गया, जो एक नए युग की शुरूआत है। हर एक हिंदू का संकल्प था कि अयोध्या में राम मंदिर का भव्य निर्माण होना चाहिए। आज यह पूर्ण हो गया है। 

गुजरातियों के लिए अयोध्या में बनेगा यात्री निवास

सीएम भूपेंद्रभाई पटेल ने कहा कि देश भर से लाखों श्रद्धालु राम मंदिर में प्रभु के दर्शन के लिए अयोध्या आ रहे हैं। हमारी सरकार में गुजरात के यात्रियों के लिए विशेष आस्था ट्रेन शुरू की है, जिसके माध्यम से हजारों लोगों को रामलला का दर्शन का अवसर प्राप्त हुआ है। अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं को रात्रि विश्राम की सुविधा प्राप्त हो इसके लिए यात्री निवास बनाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए राज्य के बजट में 10 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। अयोध्या में भविष्य में निर्मित होने वाले यात्री भवन के लिए जमीन उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उत्तर प्रदेश सरकार को धन्यवाद करता हूं।