Teach both boys and girls that menstruation is not a shame: Smriti Irani

    मुंबई:  केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने मंगलवार को कहा कि यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि एक नये भारत का निर्माण महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास के आधार पर हो। उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा शुरू किए गए विभिन्न महिला-केंद्रित विकास कार्यक्रमों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि महिलाओं के लिए संभावनाएं बेहतर होती हैं जब वे शासन के केंद्र में होती हैं।

    महिला एवं बाल विकास मंत्री ने ‘इकोनॉमिक टाइम्स एसडीजी शिखर सम्मेलन’ में अपने संबोधन में कहा, “प्रधानमंत्री का कहना है कि हमने ऐसे कार्यक्रम शुरू किए हैं जो महिला विकास के लिए समर्पित हैं, लेकिन जब हम एक नए भारत का निर्माण कर रहे हैं तब हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि यह महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास के आधार पर बना भारत हो।”

    स्मृति ने कहा कि 22 करोड़ महिलाएं, जिनके पास पहले बैंक खाते नहीं थे, उन्हें प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत अब वित्तीय सेवाएं मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत 17 करोड़ से अधिक महिलाएं लाभान्वित हुई हैं।  मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के तहत स्वच्छ रसोई ईंधन से आठ करोड़ से अधिक भारतीय महिलाएं लाभान्वित हुई हैं।

    उन्होंने कहा, “आज, मैं खुशी से बता सकती हूं कि 10 करोड़ से अधिक परिवारों के पास उनके घर में शौचालय हैं, जिससे मुख्य रूप से परिवार की महिलाओं को फायदा हो रहा है।”