आखिर कब तक बन पाएगा समृद्धि महामार्ग

    नागपुर और मुंबई के बीच बन रहे समृद्धि एक्सप्रेस वे की उपयोगिता से सभी अवगत हैं. इसके निर्माण से महाराष्ट्र की राजधानी व उपराजधानी के बीच कम समय में सीधा सड़क संपर्क स्थापित हो जाएगा तथा व्यापारिक व आर्थिक उद्देश्यों से भी यह बेहद लाभप्रद होगा. यह महत्वाकांक्षी योजना पर जिस शिथिल गति से काम चल रहा है, उसे देखते हुए भरोसा नहीं हो पा रहा कि वह कब पूरी हो पाएगी. इसका निर्माण पूरा होने की अंतिम तारीख या डेडलाइन लगातार आगे बढ़ती जा रही है. पहले कहा गया था कि महाराष्ट्र दिवस (1 मई) तक काम पूरा हो जाएगा, यह नहीं हो पाया.

    कारण यह बताया गया कि कोरोना की वजह से मजदूर भाग खड़े हुए इसलिए ठेकेदार अपेक्षित गति से काम नहीं करा पाए. अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक्सप्रेस-वे के काम में तेजी लाने का एलान करते हुए 15 अगस्त की डेडलाइन तय की है. अब यदि 15 अगस्त तक भी काम पूरा नहीं हो पाया तो क्या गणतंत्र दिवस तक इंतजार करना पड़ेगा? वैसे सीएम ने समीक्षा बैठक में कहा कि समृद्धि महामार्ग के पहले चरण में नागपुर-शिर्डी महामार्ग जल्द खोला जाएगा जिसका 72 प्रतिशत काम पूरा हो गया है. उन्होंने बाकी काम तेजी से पूरा करने का निर्देश दिया. सार्वजनिक उपक्रम मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि समृद्धि महामार्ग के लिए रिकार्ड समय में भूमि अधिग्रहण कर लिया गया था लेकिन कोरोना की वजह से काम प्रभावित हुआ. समृद्धि महामार्ग पर अब ठाणे व नाशिक के बीच जल्द काम शुरू होगा.