Crop Damage
File Photo

    कुर्हा. धामणगांव रेलवे तहसील अंतर्गत कुर्हा में लोकनिर्माण विभाग की लापरवाही से निर्माणधीन पुल से सटे खेतों में बारिश का पानी घुस गया है. जिससे सोयाबीन की अंकुर बए गए है, वहीं संतरे की फसलों का बडे पैमाने में नुकसान हुआ है. पीडित किसानों ने लोनिवि के कार्यकारी अभियंता को निवेदन सौंपकर मुआवजे की मांग की है. 

    8 दिनों पहले चेताया था 

    दिलीप त्र्यंबक चव्हाण तथा माधव मोतीराम घावट नुकसान ग्रस्त किसान है. इनके खेत के पास से गुजर रहे मार्ग पर लोनिवि द्वारा पुल बनाया गया है. पुल के निर्माण के समय आवाजाही के लिए बाजू से कच्चा मार्ग बनाया गया. लेकिन पुल का निर्माण पूर्ण होने के बावजूद यह कच्चा रास्ता हटाकर बारिश के पानी निकालने के लिए नाली नहीं बनाई गई.

    जिसका खामियाजा किसानों को फसलों के नुकसान के रुप में भुगतना पड रहा है. हालांकि किसानों ने 8 दिनों पहले पुल का काम करनेवाले एजन्सी श्रीजी कंपनी के सुपरवाइजर और श्रमिकों को कच्चा रास्ता हटाकर बारिश के पानी के लिए नाली बनाने की मांग की थी, लेकिन उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया.

    मुआवजे की मांग

    पीडित किसानों ने निवेदन में कहा है कि सोमवार 28 जून को हुई झमाझम बारिश का पानी खेतों में घुसा है. जिससे लगभग दो से ढाई लाख का नुकसान का दावा उन्होंने किया है. इस क्षति के लिए लोनिवि तथा काम करनेवाली एजेन्सी को जिम्मेदार ठहराते हुए इस नुकसान का तत्काल पंचनामा कर मुआवजा देने की मांग उन्होंने की है.