माइक हसी (Photo Credits-Facebook)
माइक हसी (Photo Credits-Facebook)

    नयी दिल्ली: कोरोना वायरस से संक्रमित माइक हसी को छोड़कर इंडियन प्रीमियर लीग में भाग लेने वाले सभी ऑस्ट्रेलियाई अपने देश रवाना होने से पहले प्रतीक्षा अवधि के समय को पूरा करने के लिए गुरुवार को मालदीव रवना हो गये। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एक बयान जारी कर इसकी पुष्टि की। कुछ खिलाड़ियों और सहयोगी कर्मचारियों के कोविड-19 पॉजिटिव आने के कारण आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। 

    क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से जारी विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘ हम पुष्टि कर सकते हैं कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, कोच, मैच अधिकारी और कामेंटेटर भारत से सुरक्षित रूप से निकल गये हैं और मालदीव पहुंच रहे हैं।” उन्होंने भारत से ऑस्ट्रेलिया आने वालों पर 15 मई तक के प्रतिबंध की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘ ऑस्ट्रेलियाई भारत से आने वाले विमानों को ऑस्ट्रेलिया आने की मंजूरी मिलने तक मालदीव में ही रुकेंगे।” तीन खिलाड़ियों के पहले ही हटने के बाद ऑस्ट्रेलिया के 40 लोग इस लीग से जुड़े थे जिसमें 14 खिलाड़ी शामिल है। 

    ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने पिछले दिनों साफ कर दिया था कि खिलाड़ी खुद से भारत गये है और ऐसे में उन्हें ऑस्ट्रेलिया आने का इंतजाम खुद करना होगा। प्रधानमंत्री के इस बयान के बाद सीए और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर संघ (एसीए) ने आईपीएल से जुड़े खिलाड़ियों, कोचों, मैच अधिकारियों और कमेंटेटरों के लिए छूट मांगने से मना कर दिया था। चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजी कोच माइक हसी कोविड-19 जांच में पॉजिटिव आने के बाद भारत में ही पृथकवास पर है। 

    सीए ने कहा, ‘‘ कोविड-19 जांच में पॉजिटिव आने के कारण माइक हसी भारत में रूकेंगे। माइक हल्के लक्षणों का सामना कर रहा है और अपनी फेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स की देख रेख में है।” उन्होंने कहा, ‘‘ माइक की ऑस्ट्रेलिया में सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए सीए और एसीए बीसीसीआई के साथ मिलकर काम करेगा।”

    सीए और एसीए ने इस बात के लिए बीसीसीआई का धन्यवाद किया कि बायो बबल में कोविड-19 मामलों के कारण लीग के स्थगित होने के दो दिनों के अंदर ही उसके खिलाड़ी भारत छोड़ने में सफल रहे। 

    बयान के मुताबिक, ‘‘ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों और कर्मचारियों को भारत से मालदीव पहुंचने में बीसीसीआई की तत्परता के लिए सीए और एसीए उसे धन्यवाद देते हैं। (एजेंसी)