मनप्रीत सिंह ने रचा इतिहास, बने FIH प्लेयर ऑफ द ईयर जीतने वाले पहले भारतीय

लुसाने, भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के प्लेयर ऑफ द ईयर बने। 1999 में यह पुरस्कार शुरू होने के बाद मनप्रीत पहले भारतीय हैं। मनप्रीत ने

लुसाने, भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के प्लेयर ऑफ द ईयर बने। 1999 में यह पुरस्कार शुरू होने के बाद मनप्रीत पहले भारतीय हैं। मनप्रीत ने सबसे ज्यादा 35.2 फीसदी वोट लेकर बेल्जियम के विक्टर वेगनेज और आर्थर वैन डोरेन (19.7 %), ऑस्ट्रेलिया के अरान जालेवस्की और अर्जेंटीना के लुकास विला( 16.5 ) को पीछे छोड़ दिया है।

ओडिशा के भुवनेश्वर में पिछले साल जून में मनप्रीत ने एफआईएच पुरुष हॉकी सीरीज फाइनल्स में भारत के लिए अपने 250 अंतर्राष्ट्रीय मैच पूरे किए थे। भारत ने उनकी कप्तानी में ही दक्षिण अफ्रीका को धूल चटा दी थी और खिताब अपने नाम किया था। वहीं एफआईएच ओलिंपिक क्वालीफायर्स में रूस को हराकर अपना परचम लहराया था। साथ ही अपनी टोक्यो की टिकट निश्चित किया था।

टोक्यो ओलिंपिक में अच्छा होगा प्रदर्शन : मनप्रीत सिंह
मनप्रीत सिंह ने यह पुरस्कार जीतने पर कहा कि ‘‘मैं यह पुरस्कार अपनी टीम को समर्पित करना चाहता हूं। मैं दुनिया भर में अपने प्रशंसकों और शुभचिंतकों का धन्यवाद करना चाहता हूं, जिन्होंने मेरे पक्ष में वोट किया। यह देखना बहुत सुखद है कि भारतीय हॉकी को कितना पसंद किया जाता है। मैं उम्मीद करूंगा कि यह समर्थन जारी रहे और हम इससे उत्साहित होकर टोक्यो ओलिंपिक में शानदार प्रदर्शन करें।’’

हॉकी इंडिया ने दी  मनप्रीत को बधाई
मनप्रीत को इस पुरस्कार के लिए हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने बधाई दी है।  भारत का एफआईएच पुरस्कारों में यह तीसरा अवॉर्ड है। इससे पहले ‘एफआईएच राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर’ के लिए  युवा मिडफील्डर विवेक सागर प्रसाद और महिला हॉकी टीम की स्ट्राइकर लालरेमसियामी को चुना गया था।