कोविड-19 से संक्रमित खिलाड़ियों के लिये नीति में बदलाव करेगा विश्व टीम टेनिस

वाशिंगटन. विश्व टीम टेनिस (डब्ल्यूटीटी) कोविड-19 से संक्रमित खिलाड़ियों से जुड़ी अपनी दो प्रमुख नीतियों में बदलाव करने जा रहा है जिसमें तीन सप्ताह के सत्र के दौरान बीमार पड़ने वाले खिलाड़ियों को पूरा वेतन देना भी शामिल है। विश्व टीम टेनिस के सीईओ कार्लोस सिल्वा ने एसोसिएटेड प्रेस से कहा कि वह 12 जुलाई से दो अगस्त के बीच होने वाले मैचों के लिये उस योजना में भी बदलाव करने जा रहे हैं जो खिलाड़ी के वेस्ट वर्जीनिया पहुंचने के बाद कोविड-19 से संक्रमित होने पर भुगतान से जुड़ी है।

अब खिलाड़ियों को ग्रीनब्रायर (टूर्नामेंट स्थल) पहुंचने से पहले परीक्षण करवाकर खुद को वायरसमुक्त घोषित करना होगा। इस शुरुआती परीक्षण में पॉजीटिव आने पर उन्हें भुगतान नहीं किया जाएगा लेकिन कम से कम टूर्नामेंट स्थल पर आने पहले उन्हें बता तो दिया जाएगा कि उन्हें प्रतियोगिता में भाग लेने की अनुमति नहीं है। सिल्वा ने कहा, ‘‘कम से कम इससे खिलाड़ी यह तो नहीं सोचेंगे कि वे तमाम बाधाओं के बावजूद यहां पहुंचे और उनका परीक्षण पॉजीटिव आ गया जिसके बाद उन्हें भुगतान भी नहीं होगा।” उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप कैलिफोर्निया में हैं और आपका परीक्षण नेगेटिव आया है तो आप ग्रीनब्रायर जाने के हकदार है। इससे हम यह जान पाएंगे कि जो भी खेलने के लिये आया है उसका परीक्षण नेगेटिव आया है। ” विश्व टीम टेनिस इस साल केवल एक स्थान पर खेला जाएगा। इस बार इसमें किम क्लाइस्टर्स, सलोनी स्टीफनस, सोफिया केनिन और ब्रायन बंधुओं के भी खेलने की संभावना है।(एजेंसी)