रॉस टेलर का कैच छोड़ना पुजारा को पड़ा भारी? कप्तान विराट कोहली ने कहा टेस्ट टीम में होंगे बदलाव

    -विनय कुमार 

    न्यूजीलैंड से ‘आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल 2021’ में मिली हार के बाद टीम इंडिया में कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) ने टेस्ट टीम में बदलाव के संकेत देते हुए कहा कि खिलाड़ियों के प्रदर्शन की समीक्षा की जाएगी। इसके बाद सही लोगों को टेस्ट टीम में शामिल किया जाएगा, जो अच्छे प्रदर्शन के लिए सही मानसिकता के साथ मैदान में उतरें। भारतीय बल्लेबाजों ने फाइनल मैच में निराश किया, जिससे टीम को 8 विकेट से हार मिली।  कप्तान विराट कोहली ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि कुछ खिलाड़ियों में रन बनाने का जुनून ही नजर नहीं आ रहा है।

    टीम इंडिया के सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने WTC Final की पहली पारी में 54 गेंद में सिर्फ 8 रन बनाए और अपने पहले रन के लिए, यानी अपना खाता खोलने में 35 गेंद का वक्त ले लिया था। उसके बाद भारत की दूसरी पारी की बल्लेबाजी में उन्होंने 80 गेंदों का सामना करते हुए सिर्फ 15 रन ही बनाए। और जब भारत की फील्डिंग की बारी आई, तब उन्होंने न्यूजीलैंड के धाकड़ बल्लेबाज रॉस टेलर (Ross Taylor) का आसान कैच भी स्लिप पर टपका दिया। ऐसे में कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain India) के बयान के बाद अटकलें लगाई जा रही हैं कि, अब चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) का टेस्ट टीम से पत्ता कट सकता है। विराट कोहली ने WTC Final मैच के समाप्त होने के बाद ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘हम आत्ममंथन (introspection) करते रहेंगे और इस पर गौर किया जाता रहेगा कि टीम को मजबूत बनाने के लिए क्या करना चाहिए। एक ही ढर्रे पर नहीं चल सकते।’’

    हालांकि, माना तो ये भी जा रहा है कि कुछ सीनियर खिलाड़ियों को वक्त ज़रूर दिया जाएगा और इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज (IND vs ENG Test Series in England 2021) में अच्छा प्रदर्शन की बदौलत ही वे टीम में अपनी जगह बचा पाएंगे। कप्तान कोहली ने कहा, ‘‘हम एक साल तक इंतजार नहीं कर सकते। आप हमारी सीमित ओवरों की टीम (Limited Overs Team India) देखें, तो हमारे पास डेप्थ है और खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे हुए हैं। टेस्ट क्रिकेट में भी इसकी आवश्यकता है। हमें नए सिरे से समीक्षा करके रणनीति बनानी होगी, और यह समझना होगा कि टीम के लिए क्या असर करेगा और किस कदर हम बेखौफ़ खेल सकेंगे। सही खिलाड़ियों को टीम में शामिल करना होगा, जो अच्छे प्रदर्शन को लेकर पॉजिटिव मानसिकता के साथ मैदान में उतरें।’’

    विराट कोहली ने आगे कहा, ‘‘खेल में अपने प्रदर्शन में लगातार सुधार लाना जरूरी है। विशेषकर तब, जब आप लगातार कई साल से नंबर वन टीम हैं, अचानक आपका स्तर नहीं गिरना चाहिए। हम ये फैसले लेंगे और इस पर चर्चा करेंगे।’’ 

    कोहली ने न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम जैसी बेहतरीन बोलिंग अटैक के सामने रन बनाने को लेकर उठे सवाल पर भी बात की। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इस पर ध्यान देना होगा कि रन कैसे बनाए जाएं। हमें अपने हाथ से मैच निकलने नहीं देना है। मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई तकनीकी दिक्कत है।’’ (एजेंसी)