Team India, Test

    दुबई: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने बुधवार को आधिकारिक तौर पर पुष्टि की कि भारत और इंग्लैंड के बीच अगस्त में पांच मैचों की श्रृंखला से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के दूसरे चक्र के दौरान जीत दर्ज करने पर 12 अंक, ड्रा पर चार अंक और मैच टाई होने पर छह अंक दिये जाएंगे। 

    आईसीसी ने आगे कहा कि जीते गये अंकों के प्रतिशत का उपयोग 2021-23 के चक्र में स्थानों का निर्धारण करने के लिये किया जाएगा। इससे पहले प्रत्येक टेस्ट श्रृंखला के लिये 120 अंक तय किये गये थे जिससे असमानता पैदा होती थी क्योंकि दो टेस्ट मैचों की एक श्रृंखला में एक टेस्ट जीतने पर टीम को 60 अंक मिल जाते थे जबकि पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में एक मैच जीतने पर केवल 24 अंक मिलते थे। पीटीआई – भाषा ने पिछले महीने ही रिपोर्ट दे दी थी कि आईसीसी डब्ल्यूटीसी के दूसरे चक्र के लिये नयी अंक प्रणाली शुरू करने जा रही है। 

    आईसीसी के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी ज्योफ अलारडाइस ने कहा कि पिछले साल के व्यवधान से सबक लेकर ये बदलाव अंक प्रणाली को सरल बनाने के लिये किये गये हैं। अलारडाइस ने आईसीसी के बयान में कहा, ‘‘हमें प्रतिक्रिया मिली कि पिछली अंक प्रणाली को सरल बनाने की जरूरत है। क्रिकेट समिति ने प्रत्येक मैच के लिये एक नयी मानकीकृत प्रणाली का प्रस्ताव रखते समय इसे ध्यान में रखा। ” जून 2023 में समाप्त होने वाले डब्ल्यूटीसी के दूसरे चक्र में पांच टेस्ट मैचों की केवल दो श्रृंखलाएं शामिल हैं। इनमें भारत-इंग्लैंड श्रृंखला के अलावा इस साल आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होने वाली एशेज श्रृंखला शामिल है। 

    आस्ट्रेलिया के अगले साल के भारत दौरे में चार टेस्ट मैच खेले जाएंगे। यह नये चक्र में चार मैचों की एकमात्र श्रृंखला होगी। नौ टेस्ट टीमें कुल छह-छह श्रृंखलाएं खेलेंगी। इनमें से पिछली बार की तरह तीन श्रृंखलाएं स्वदेश और तीन विदेश में खेलनी होंगी। (एजेंसी)