ओलंपिक गोल्ड के बाद नीरज चोपड़ा का एक और सपना हुआ पूरा, मां-पापा के साथ किया हवाई सफर कर कही ये बात

    नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में इतिहास रचने वाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) आए दिन सुर्ख़ियों में बने रहते हैं। भारत को भाला फेंक (Javelin Throw) में स्वर्ण (Gold Medal) दिलाने वाले नीरज अब अपना हर एक छोटा सपना पूरा करने में जुट गए हैं। हरियाणा (Haryana) का इस खिलाड़ी की तस्वीरें सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी वायरल हो रही है। नीरज का शनिवार की सुबह एक और सपना सच हो गया, जब उन्होंने पहली बार अपने माता-पिता को फ्लाइट की यात्रा करवाई। 

    इस मौके पर नीरज ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर माता-पिता के साथ तस्वीरें शेयर की हैं। जिसके कैप्शन में उन्होंने लिखा- ‘आज जिंदगी का एक सपना पूरा हुआ जब अपने मां-पापा को पहली बार फ्लाइट में बैठा पाया। सभी की दुआ और आशीर्वाद के लिए हमेशा आभारी रहूंगा।’ 

    बता दें कि नीरज ने पिछले महीने घोषणा की थी कि तबीयत ठीक नहीं होने और ट्रैवलिंग की वजह से उनकी ट्रेनिंग की शुरुआत नहीं हो पा रही है। जिसके चलते उनकी टीम ने इस साल का सीजन रोकने का निर्णय लिया है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा था कि वे अगले साल यानी 2022 में एशियाई खेल और कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग ज़रूर लेंगे। 

    ज्ञात हो कि नीरज चोपड़ा ने ओलंपिक में जैवलिन थ्रो के फाइनल इवेंट में 87।58 मीटर का थ्रो फेंककर भारत का नाम रोशन किया था और गोल्ड हासिल किया था। उन्होंने भारत को ट्रैक एंड फील्ड में पहला मेडल दिलाया है। नीरज भारत की तरफ से ओलंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले महज दूसरे ही खिलाड़ी हैं। खास बात यह है कि नीरज चोपड़ा के गोल्ड मेडल जीतने की ऐतिहासिक उपलब्धि को वर्ल्ड एथलेटिक्स ने टोक्यो में ट्रैक एवं फील्ड के 10 जादुई पलों में शामिल किया था।