ponappa

    नयी दिल्ली. भारतीय खेल जगत में और बैडमिंटन (Badminton) में ध्रुव तारे के जैसे टिमटिमाने वाली अश्विनी पोनप्पा (Ashwini Ponnappa) आज अपना 32वां जन्मदिन (Birthday) मना रही हैं। उनका जन्म 18 सितंबर 1989 को बेंगलुरू में हुआ था। हालाँकि उनके पिता एक बेहतरीन हॉकी खिलाड़ी थे लेकिन अश्विनी ने जैसे बैडमिंटन का रैकेट ही पकड़ना था।  पोनप्पा ने बेंगलुरु के सेंट फ्रांसिस ज़ेवियर गर्ल्स हाई स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की इसके बाद वे हैदराबाद में स्नातक की पढ़ाई करने चली आयीं। लेकिन इसके साथ ही उनका और बैडमिंटन का साथ बदस्तूर चलता रहा।  

    उनके बेहतरीन रिकॉर्ड 

    दोस्तों अश्विनी पोनप्पा पहली बार खबरों में तब आईं जब उन्होंने साल 2001 में भारतीय जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप जीत लिया था। तब उनकी उम्र महज 12 साल थी। इसके बाद साल 2004 और 2005 में अश्विनी ने महिला वर्ग की सब जूनियर डबल्स का खिताब अपने नाम किया। इसके बाद साल 2006, 2007 में जूनियर गर्ल्स डबल्स का खिताब भी पोनप्पा ने जीता। फिर साल 2010 में दक्षेस खेलों में मिक्स्ड डबल्स और टीम इवेंट का स्वर्ण पदक भी अपने नाम किया। 

    अगर हम देखेंगे तो पाएंगे की पोनप्पा के नाम युगल स्पर्धा में ओलंपिक के अलावा एशियाई खेलों, राष्ट्रमंडल खेलों, विश्व चैंपियनशिप, उबेर कप और दक्षेस खेलों में अनेक पदक हैं। उन्होंने साल 2010 में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में ज्वाला गुट्टा के साथ मिलकर स्वर्ण पदक भी जीता। हालाँकि साल 2014 में ग्लासगो में यह जोड़ी अपने खिताब नहीं बचा सकी।

    इसके अलावा भारत को 2014 में नई दिल्ली और 2016 में कुशान में हुए उबेर कप में कांस्य पदक दिलाने में भी अश्विनी-गुट्टा की बेहतरीन और जीताऊ जोड़ी ने काफी अहम भूमिका निभाई। फिर साल 2011 में लंदन में हुई विश्व चैंपियनशिप में भी इस जोड़ी ने तहलका मचाते हुए कांस्य पदक हासिल किया। बता दें की अश्विनी पोनप्पा विश्व रैंकिंग में साल 2015 में 10 वें स्थान पर भी विराजमान थी।

    ये हैं अश्विनी पोनप्पा के ख़ास उपलब्धियां 

    • पोनप्पा ने ग्लासगो में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स 2014 में रजत पदक जीता था। 
    • साल 2010 कॉमनवेल्थ में ज्वाला गुट्टा के साथ गोल्ड मेडल भी अपने नाम किया। 
    • वी. दीजू के साथ जोड़ी बनाकर भी कई मेडल्स जीते।  
    • डब्लस इवेंट में नेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप 2006 और 2007 में लगातार दो बार जीत कर बेहतरीन प्रदर्शन।