t20

    कोलकाता. न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ पहले दो मैच जीतने के बावजूद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) अपने आक्रामक तेवर नहीं छोड़ेंगे लेकिन रविवार को तीसरे और आखिरी टी20 मैच में रिजर्व खिलाड़ियों को मौका दिया जा सकता है । दुनिया भर में अनेक निजी लीगों के कारण द्विपक्षीय टी20 श्रृंखलाओं की चमक कम हो रही है लेकिन विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद इस श्रृंखला को जीतने से भारत (India) के जख्मों पर मरहम लगेगा । दूसरी ओर विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से दो सप्ताह के भीतर पांच मैच खेलने वाली न्यूजीलैंड टीम के लिये यह मैच औपचारिकता मात्र है ।

    इतने बेरहम शेड्यूल और कप्तान केन विलियमसन की गैर मौजूदगी के कारण 0 . 3 से हार की कगार पर पहुंची कीवी टीम का मानमर्दन तो हुआ होगा लेकिन द्विपक्षीय श्रृंखलाओं के नतीजे से उतना फर्क नहीं पड़ता । जयपुर और रांची में जीतने के बाद भारतीय टीम श्रृंखला अपने नाम कर चुकी है लेकिन ‘क्लीन स्वीप’ करने के लिये ईडन गार्डन से बेहतर जगह नहीं हो सकती । बतौर पूर्णकालिक टी20 कप्तान रोहित की यह पहली श्रृंखला है जिसमें पहले दोनों टॉस उन्ऊोंने जीते । इससे हालात का फायदा उठाने में मदद मिली और गेंदबाजों तथा बल्लेबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा। रोहित ने ईडन गार्डन पर ही वनडे क्रिकेट में 264 रन बनाये थे और यहीं पर कप्तान के तौर पर पहली श्रृंखला 3 . 0 से जीतना उनके लिये सोने पे सुहागा होगा ।

    कोच राहुल द्रविड़ को इस तरह की शानदार जीत के बाद नयी भूमिका में ढलने में मदद मिलेगी । इसके एक सप्ताह के भीतर ही न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला शुरू होने वाली है । रोहित और द्रविड़ अब रिजर्व खिलाड़ियों को मौका देकर परखना चाहेंगे । छठे गेंदबाज को चुनने की दशा में वेंकटेश अय्यर से गेंदबाजी कराई जा सकती है चूंकि हुगली नदी से उठने वाली हवाओं से उन्हें अतिरिक्त स्विंग मिलेगी । रूतुराज गायकवाड़, आवेश खान और ईशान किशन उम्मीद कर रहे होंगे कि कप्तान उन्हें इस मैच में मौका देंगे ।

    आईपीएल में आरेंज कैप रहे गायकवाड़ पहले तीन स्थानों में से किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर सकते हैं ।इसके लिये कप्तान रोहित या उपकप्तान के एल राहुल को बाहर बैठना होगा । राहुल को बाहर करना सटीक होगा क्योंकि चार दिन बाद उन्हें टेस्ट श्रृंखला खेलनी है । इसी तरह दीपक चाहर या भुवनेश्वर कुमार की जगह आवेश खान को उतारा जा सकता है । अक्षर पटेल या रविचंद्रन अश्विन की जगह युजवेंद्र चहल खेल सकते हैं । विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप से लगातार खेल रहे ऋषभ पंत की जगह ईशान किशन को मौका दिया जा सकता है । इस श्रृंखला का सबसे बड़ा हासिल अश्विन का फॉर्म रहा जिन्होंने दोनों मैचों में किफायती गेंदबाजी करके 23 और 19 रन देकर क्रमश: दो और एक विकेट लिया ।

    वह ‘प्लेयर आफ द सीरिज ‘ पुरस्कार के दावेदार बन गए हैं जबकि चार साल तक उन्हें सीमित ओवरों की टीम में उतारा नहीं गया । न्यूजीलैंड के लिये दिक्कत 15वें से 20वें ओवर के बीच है जिसमें उनके बल्लेबाज तेजी से रन नहीं बना पा रहे । ईडन गार्डन बल्लेबाजों की ऐशगाह रहा है और नवंबर में बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम के लिये ओस के कारण आसानी होगी ।

    टीमें :

    भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), लोकेश राहुल, रुतुराज गायकवाड़, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, इशान किशन, वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्र चहल, आर अश्विन, अक्षर पटेल, आवेश खान, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, हर्षल पटेल और मोहम्मद सिराज।

    न्यूजीलैंड: टिम साउदी (कप्तान), टॉड एस्टल, ट्रेंट बोल्ट, मार्क चैपमैन, लॉकी फर्ग्युसन, मार्टिन गप्टिल, एडम मिल्ने, डेरिल मिशेल, जिमी नीशाम, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, टिम सीफर्ट और ईश सोढ़ी। समय: मैच शाम सात बजे शुरू होगा।