bcci
File Photo

    नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टीमों को रणनीतिक लचीलापन प्रदान करने की अपनी कोशिश में ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ प्रणाली शुरू करने के लिए तैयार है। इस नियम के तहत कप्तान मैच के दौरान अंतिम एकादश के किसी खिलाड़ी जगह स्थानापन्न खिलाड़ी को टीम में शामिल कर सकता है। बीसीसीआई ने अक्टूबर में सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट के दौरान इस प्रणाली का परीक्षण किया था और राज्य की टीमों ने इस कदम का स्वागत किया था। 

    इस घटनाक्रम से जुड़े सूत्रों के मुताबिक आईपीएल संचालन समिति (जीसी) ने  इस मामले पर गुरुवार शाम को चर्चा की थी। ‘इंपैक्ट प्लेयर’ के संबंध में फ्रेंचाइजी को पहले ही सूचना दे दी गयी है। आईपीएल फ्रेंचाइजी के एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘इस मामले पर आईपीएल जीसी की बैठक में चर्चा की गई और बीसीसीआई जल्द ही इसका ब्योरा साझा करेगा।”

    इससे जुड़े नियमों की सटीक विवरण की प्रतीक्षा है लेकिन माना जा रहा है कि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान पालन किए जाने वाले खेल नियमों को अपनाया जाएगा। ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ नियम के तहत एक टीम में चार पूर्व-निर्धारित स्थानापन्न खिलाड़ी हो सकते हैं, जिन्हें ‘रणनीतिक प्रतिस्थापन’ के रूप में चित्रित किया जा सकता है। उनमें से किसी एक का उपयोग मैच में किया जा सकता है। 

    इस तरह के किसी भी विकल्प को हालांकि पारी के 14वें ओवर से पहले किया जायेगा। इसके तहत टीम में ‘इंपैक्ट प्लेयर’ के तौर पर शामिल होने वाला खिलाड़ी अपने कोटे की पूरी गेंदबाजी या नये बल्लेबाज की तरह बल्लेबाजी कर सकेगा। (एजेंसी)