bcci-agm-ratification-of-ipl-teams-tax-issues-cricket-committees-on-agenda

अहमदाबाद: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India) ने इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) में टीमों को लेकर बड़ा निर्णय लिया है।  गुरुवार को अहमदाबाद (Ahmdabad) स्थित मोटेरा स्टेडियम (Motera Stadium) में आयोजित सालाना बैठक में बीसीसीआई ने आईपीएल में 10 टीमें खिलवाने वाले प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी हैं। जिसके तहत अब लीग के अंदर आठ की जगह 10 टीम खेलेंगी। हालांकि दोनों नई टीम 2022 में आयोजित होने वाले सीजन में शामिल होंगी।

सालाना बैठक में बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली, सचिव जय शाह, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ल सहित सभी अन्य बैठक में शामिल हुए. इस बैठक में आईपीएल समेत कई और महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। जिसमें 2028 में ओलंपिक में शामिल, विश्व कप में कर संबंधित कई निर्णय शामिल हैं। 

2028 ओलंपिक में शामिल होने का समर्थन 

इस बैठक में एक और बड़ा निर्णय लिया गया, जिसमें अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) से कुछ स्पष्टीकरण के बाद क्रिकेट के टी20 प्रारूप को 2028 लॉस एंजिलिस ओलंपिक में शामिल करने की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की दावेदारी का सैद्धांतिक रूप से समर्थन करने को राजी हो गया।

गांगुली बने रहेंगे अध्यक्ष 

आम सभा में मौजूदा बीसीसीआई प्रमुख गांगुली अपने पद पर बने रहेंगे, सभी सदस्यों ने इसका समर्थन किया हैं। इसी के साथ सचिव जय शाह वैकल्पिक निदेशक और वैश्विक संस्था की मुख्य कार्यकारियों की समिति में भारत के प्रतिनिधि होंगे। वहीं एक अन्य निर्णय में कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला को उत्तराखंड के माहिम वर्मा की जगह औपचारिक रूप से बोर्ड का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया।

सभी खिलाड़ियों को मिलेगा मुआवजा 

बैठक में कोरोना वायरस के वजह से खिलाडियों को हुए मुआवजा देने का निर्णय लिया है। दरअसल इस महामारी के वजह से घरेलु आयोजित सत्र को देरी से शुरू करने के कारण मिलेगा. यह महिला और पुरुष प्रथम श्रेणी को मिलेगा। बीसीसीआई कई महीनों के विलंब के बाद जनवरी में सैयद मुश्ताक अली टी20 चैंपियनशिप के साथ घरेलू सत्र शुरू करने की योजना बना रहा है।