कभी पेट भरने के लिए उठाया करते थे कचरा, शादी से पहले ही बन चुके थे पिता, आईपीएल में दर्ज है ये शानदार रिकॉर्ड

    नई दिल्ली: वेस्टइंडीज (West Indies) के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल (Chris Gayle Birthday) का आज यानी 21 सितंबर (21 September) को जन्मदिन है। उनका जन्म साल 1979 को जमैका (Jamaica) में हुआ था। आज वह अपना 42वां जन्मदिन मना रहे हैं। गेल एक बेहतरीन बल्लेबाज हैं। आईपीएल (IPL) में भी उनका परफॉर्मेंस काफी अच्छा है। मैदान पर बड़े-बड़े छक्कों और तूफानी पारियों के लिए गेल काफी मशहूर हैं। 

    कचरे उठाने को मजबूर थे क्रिस गेल 

    आज क्रिस गेल भले ही बड़े आलिशान घर, बड़ी गाड़ियों में घूमते हैं, लेकिन कभी ऐसा समय भी था जब वह पेट पलने के लिए कचरे उठाया करते थे। गेल का बचपन काफी गरीबी में गुजरा है। क्रिस गेल का पूरा परिवार एक कच्ची झोपड़ी में रहता था। घर का खर्च चलाने के लिए उनकी मां मूंगफली बेचा करती थीं। गेल के मां-बाप के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह उन्हें पढ़ा सके, इसलिए गेल 10वीं क्लास के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। गेल कभी-कभार पेट भरने के लिए चोरी भी किया करते थे।

    दादा ने सिखाया क्रिकेट 

    दुनियाभर में यूनिवर्स बॉस के नाम से मशहूर क्रिस गेल को क्रिकेट उनके दादा ने सिखाया था। उनके दादा क्लब लेवल के क्रिकेटर रहे थे, जिनसे गेल ने क्रिकेट खेलना सीखा। गेल ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत जमैका के प्रसिद्ध ल्युकस क्रिकेट क्लब से की थी।    

    शादी से पहले बन चुके थे पिता 

    क्रिस गेल शादी से पहले ही पिता बन चुके थे। वो अपनी गर्लफ्रेंड नताशा के साथ लिव-इन में रहते थे। गेल की पत्नी नताशा ने शादी करने से पहले एक बच्ची को जन्म दिया था, जिसका नाम गेल ने बल्श रखा है। जिसके बाद गेल और नताशा ने शादी कर ली थी। 

    आईपीएल में दर्ज है शानदार रिकॉर्ड 

    क्रिस गेल का आईपीएल में काफी अच्छा रिकॉर्ड रहा है। वह किसी भी तरह के गेंदबाज को परेशान करने में कामयाब रहे हैं। अक्सर देखा जाता है कि गेल क्रीज पर खड़े रहकर ही लंबे शॉट्स मरने में माहिर हैं। आईपीएल में उनके नाम कई रिकॉर्ड भी है। आरसीबी के लिए तीसरे सीजन में खेलते हुए क्रिस गेल ने पुणे वॉरियर्स के गेंदबाजों की खूब धुनाई की थी। उस मैच वह गेल 175 रन बनाकर नाबाद रहे। गेल ने सिर्फ 30 गेंदों में शतक जमा दिया था और 66 गेंदों में 175 रन बनाकर नाबाद रहे। जो आज भी आईपीएल का सबसे बड़ा स्कोर और टी20 क्रिकेट में सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड दर्ज है।