T20

    विनय कुमार

    नयी दिल्ली. ‘ICC T20 WORLD CUP, 2016’ में खेले गये आखिरी विश्वकप के फाइनल यानी, खिताबों मुकाबले में जब वेस्ट इंडीज और इंग्लैंड की टीम (West Indies vs England T20 WC) के बीच हुए मैच के अंतिम ओवर में वेस्ट इंडीज की टीम ने 4 छक्के ठोककर अपना दूसरा खिताब जीता था। इस जीत के साथ ही वेस्ट इंडीज ने T20 World Cup में इंग्लैंड के खिलाफ अपना अजेय जीत का रिकॉर्ड कायम कर लिया।

    अब ताज़ा वर्ल्ड कप में जब सुपर-12 (SUPER-12) के ओपनिंग डे में ये दो टीम मैदान में ताल ठोकने उतरी तो करोड़ों क्रिक्रेटप्रेमियों को एक बार फिर लास्ट ओवर थ्रिलर (last over thriller) देखने की उम्मीद थी। लेकिन, शनिवार, 23 अक्टूबर की रात ये नौबत नहीं आई। इंग्लैंड की टीम ने बेहद छोटे स्कोर का पीछा करते हुए इस मैच को 6 विकेट से जीत लिया और ICC T20 WORLD CUP, 2021 में जीत से अपनी यात्रा का आगाज करते हुए World Cup के इतिहास में हार के रिकॉर्ड को बदल दिया।

    इंग्लैंड ने इस मुकाबले में जीत हासिल कर वेस्ट इंडीज के खिलाफ T20 World Cup में अपनी पहली जीत हासिल की, और लगातार हार के सिलसिले को विराट दिया। शनिवार को वेस्ट इंडीज (West Indies) की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 55 रन बनाकर सिमट गई। जिसका पीछा करते हुए बेहद सधी हुई घातक गेंदबाजी और टाइट फील्डिंग की वजह से इंग्लैंड के 4 मजबूत खिलाड़ियों के विकेट गिर गए। लेकिन, इंग्लैंड ने सिर्फ 8.2 ओवर में ही टारगेट क्रॉस कर लिया और बड़े अंतर से वेस्ट इंडीज़ को हराया। इंग्लैंड ने 6 विकेट से जीत हासिल कर वेस्ट इंडीज के खिलाफ (West Indies vs England) T20 World Cup के इतिहास में अपनी पहली जीत हासिल की।

    आदिल राशिद की घातक गेंदबाजी के सामने वेस्ट इंडीज पस्त

    इंग्लैंड ने इस मुकाबले में टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। बल्लेबाज़ी करने मैदान में उतरी वेस्ट इंडीज़ की समूची  टीम 55 रन के स्कोर पर निपट गई। वेस्ट इंडीज की टीम 14.2 ओवर ही खेल सकी और ऑल आउट हो गई। क्रिस गेल (Chris Gayle Universe Boss) ने सबसे ज्यादा 13 रन बनाए। उनको कोई भी बल्लेबाज डबल डिजिट  के आंकड़े को पार नहीं कर सका। इंग्लैंड की तरफ से आदिल राशिद (Adil Rashid) ने T20 World Cup की सबसे बेहतरीन गेंदबाजी की और अपने 2.2 ओवर के स्पेल में सिर्फ 2 रन देकर 4 विकेट चटकाए। आदिल के अलावा मोइन अली (Moeen Ali) और टाइमल मिल्स (Tymal Mills) ने भी 2-2 विकेट झटके। क्रिस वोक्स (Chris Woakes) और क्रिस जॉर्डन (Chris Jordan) को भी एक-एक विकेट मिले।

    वेस्ट इंडीज का शर्मनाक रिकॉर्ड

    वेस्ट इंडीज (West Indies) ने अपनी इस पारी के साथ ही T20 World Cup के इतिहास में बड़ा शर्मनाक रिकॉर्ड अपने नामदर्ज़ कराया और टेस्ट मैच खेलने वाले देशों में वर्ल्ड कप का न्यूनतम स्कोर बनाने का निराशाजनक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। इतिहास बताता है कि T20 World Cup की एक पारी में न्यूनतम स्कोर बनाने का रिकॉर्ड नीदरलैंड्स (Netherlands) के नाम है, जो श्रीलंका के खिलाफ 2 बार 39 रन (T20 World Cup 2014) और 44 रन (T20 World Cup, 2021) पर ऑल आउट हो चुकी है। अब  वेस्ट इंडीज भी इस लाइन में खड़ी नजर आ रही है। 

    इंग्लैंड की T20 World Cup की सबसे बड़ी जीत

    वेस्ट इंडीज की बेहद शर्मनाक बल्लेबाजी के बाद ऐसा लगा, जैसे इंग्लैंड इस बेहद छोटे और आसान टारगेट को बड़ी आसानी से हासिल कर लेगा। लेकिन, इतना आसान भी नहीं था। जीत के लिए 56 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की तरफ से जेसन रॉय (Jason Roy) 21 रन और जोस बटलर (Jos Butler) 24 रन नॉट आउट, ने 21 रनों की साझेदारी की। लेकिन रवि रामपॉल (Ravi Rampaul) ने जेसन रॉय (Jason Roy) का विकेट उड़ाकर इंग्लैंड को पहला तगड़ा झटका दिया।

    वहीं, अकील हुसैन (Akeel Hussain) ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 9 रन के निजी स्कोर पर जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) और लियाम लिविंगस्टोन (Liam Livingston) को आउट कर इंग्लैंड को बेहद आसान जीत को थोड़ा कठिनाई में डाल दिया था। इंग्लैंड ने जोस बटलर (Jos Butler England) की नाबाद 24 रनों की पारी की बदौलत 8.2 ओवर में इंग्लैंड ने 6 विकेट से मुकाबला जीत लिया।

    गौरतलब है कि, इस ताज़ा जीत के साथ इंग्लैंड (England) ने T20 World Cup में गेंदों के लिहाज से अब तक की अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज की हैं। इंग्लैंड ने इस मुकाबले में मैच को 70 गेंद शेष रहते जीत लिया। इतिहास बताता है कि, इससे पहले इंग्लैंड (England) का गेंद के लिहाज से सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड 67 शेष रहते जीत का था।