itll-indias-loss-rohit-sharma-not-made-white-ball-captain-gautam-gambhir

    -विनय कुमार

    IPL 2021 दूसरा चरण 19 सितंबर से UAE में खेला जाना है, जिसको लेकर इस ले रही सारी टीमें इस समय तैयारियों में जुटी हुई हैं। आठों टीम अपनी रणनीति को फाइनल करने में मशगूल हैं ताकि खिताब जीत सकें। 5 बार की खिताबी चैम्पियन Mumbai Indians की टीम आईपीएल में जीत की हैट्रिक लगाने पर नजर गड़ाए हुए है।

    गौरतलब है कि IPL 2021 में 5 बार की खिताबी चैम्पियन मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की शुरुआत, भारत में खेले गए पहले चरण में, काफी धीमी रही। लेकिन, बाद में चलकर टीम ने कुछ मैच जीते। अब तक खेले 7 मैचों में 4 में जीत के साथ 8 प्वाइंट्स लेकर मुंबई इंडियंस प्वाइंट्स टेबल में चौथे पायदान पर है।

    मुंबई के बोलर्स को मिलेगा लाभ

    गौरतलब है कि, पिछले सीज़न में (IPL 2020) मुंबई इंडियंस ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था और UAE के मैदानों में प्रतिद्वंद्वी टीमों को बड़े अंतर से हराकर खिताब को अपने नाम किया। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) के मुताबिक, UAE में होने वाले दूसरे चरण में भी मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की टीम जीत की सबसे मजबूत दावेदार होगी, क्योंकि वहां की परिस्थितियां उनके खिलाड़ियों के पक्ष में नजर आ रहे हैं।

    गौतम गंभीर ने कहां “Mumbai Indians की टीम ने IPL 2021 के पहले चरण में खेले गए अभी तक के मैच उन परिस्थितियों में खेले थे, जहां वो आमतौर पर नहीं खेलते हैं। जब आप चेपॉक (MA Chidambaram Stadium Chennai) या दिल्ली की परिस्थितियों को देखते हैं, तो वो वानखेडे (Wankhede Stadium Mumbai) से बिल्कुल अलग नजर आती हैं। और जैसा कि मैंने पहले ही कहा कि वो ऐसी परिस्थितियों में (UAE) खेलने जा रहे हैं, जहां की आबोहवा उनके बोलर्स जैसे,  जसप्रीत बुमराह (Jaspreet Bumrah), ट्रेंट बोल्ट (Trent Bolt) के पक्ष में नजर आती है।”

    UAE में Mumbai Indians को नहीं होगी मुश्किल

    Star Sports के स्पेशल शो ‘गेम प्लान’ (Game Plan) में  अपनी खास बातचीत में गौतम गंभीर ने कहा कि मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की टीम और उसके खिलाड़ियों को चेपॉक के मैदान पर (Chidambaram Stadium Chennai) संघर्ष करना पड़ा, लेकिन UAE की परिस्थितियां उन्हें सूट करती हैं। और मुझे विश्वास है कि वो एक बार फिर से दबदबा बनाती दिखेंगे।”

    उन्होंने कहा, “UAE में मुंबई (Mumbai Indians MI) के तेज गेंदबाजों को स्विंग मिलती दिखेगी, जो कि उन्हें और भी खतरनाक बनायेगी। इसके साथ ही मुंबई की टीम स्विंग बोलिंग करने में माहिर ,है और उनके पास  क्वालिटी के तेज़ गेंदबाज (Fast Bowlers Mumbai Indians) हैं। यह उनके लिये फायदेमंद साबित होगी। इसके साथ ही उनके (Mumbai Indians) बल्लेबाज चाहते हैं कि गेंद आसानी से उनके बल्ले पर आ सके। रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को चेपॉक के मैदान पर (Chidambaram Stadium Chennai) परेशानी हुई थी, क्योंकि वहां पर गेंद बहुत रुक रही थी और स्पिन हो रही थी। लेकिन, UAE  में ऐसा नहीं होगा।”

    Mumbai Indians को  होगा फायदा

    गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने आगे कहा कि 5 बार की आईपीएल चैम्पियन (IPL Champion MI) को अबुधाबी (Abu Dhabi), दुबई (Dubai) और शारजाह (Sharjah) की पिच पर खेलने में कोई परेशानी नहीं होगी, क्योंकि पिछले साल (IPL 2020) वो यहां पर खेल चुके हैं। हालांकि, गौतम ने इस बात को माना कि मुंबई इंडियंस की टीम अब एक भी मैच में हार बर्दाश्त नहीं कर सकती।

    उन्होंने कहा, “जैसे ही मुंबई की टीम (Mumbai Indians) दुबई या अबुधाबी (Abu Dhabi) में खेलना शुरू कर देगी, तो उसे कोई परेशानी नहीं होगी। यही वजह है कि मुझे लगता है कि मुंबई इंडियंस की टीम (Mumbai Indians) को अन्य टीम के मुकाबले फायदा रहेगा। हालांकि, अब वो इस ताज़ा सीजन के दूसरे चरण में और हार बर्दाश्त नहीं कर सकते। मुंबई की टीम को 7 मैच खेलने हैं और क्वालिफाई (IPL 2021 Qualify) करने के लिये उन्हें कम से कम 5 मैचों में जीत हासिल करनी पड़ेगी। आई में वो (Mumbai Indians) ऐसी परिस्थिति में नहीं पहुंचना चाहेंगे, जहां उन्हें 5 में से 5 मैचों में जीत हासिल करने की जरूरत हो।”