ICC ने की 8 नए पुरुषों के व्हाइट-बॉल टूर्नामेंट की घोषणा

    • चैंपियंस ट्रॉफी की आधिकारिक रूप से हुई वापसी 

    नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने मंगलवार को आगामी आईसीसी आयोजनों के कार्यक्रम की घोषणा की। ICC ने ट्विटर पर आने वाले दशक के लिए पुरुषों की व्हाइट-बॉल क्रिकेट के लिए 8 नए टूर्नामेंटों की घोषणा की। ICC ने यह भी खुलासा किया कि 12 अलग-अलग देश आगामी कार्यक्रमों की मेजबानी करेंगे।

    बता दें कि चैंपियंस ट्रॉफी को भी ICC द्वारा आगामी टूर्नामेंटों की सूची में शामिल किया गया है। वहीं पाकिस्तान 2025 में अगली आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करेगा।

    ICC ने ट्विटर पर लिखा, ‘क्या आप पुरुषों के व्हाइट-बॉल क्रिकेट के अब तक के सर्वश्रेष्ठ दशक के लिए तैयार हैं? आठ नए टूर्नामेंटों की घोषणा की गई, 12 अलग-अलग मेजबान देशों ने पुष्टि की, चैंपियंस ट्रॉफी की आधिकारिक वापसी हुई।’

    11 पूर्ण सदस्यों और तीन एसोसिएट सदस्यों को दो आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप, चार आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप और दो आईसीसी पुरुष चैंपियंस ट्रॉफी आयोजनों की मेजबानी के लिए चुना गया है।

    यह देश इस साल करेंगे मेजबानी 

    बता दें कि अमेरिका(USA) और नामीबिया पहली बार आईसीसी विश्व कप आयोजन की मेजबानी करेंगे। वहीं ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, आयरलैंड, भारत, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, स्कॉटलैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे ने पहले बड़े आयोजन किए हैं और अगले दशक में भी मेजबानी करेंगे।

    जून 2024 में आईसीसी पुरुष टी 20 विश्व कप कहीं ऐसा होगा जो पहले कभी नहीं हुआ था। जिसमें यूएसए वेस्ट इंडीज के साथ इस आयोजन की मेजबानी करेगा, जिसने 2010 में टूर्नामेंट की मेजबानी की थी। वहीं उसके आठ महीने बाद फरवरी 2025 में पाकिस्तान मेन्स चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करेगा। बता दें कि यह 1996 के बाद से पाकिस्तान में खेला जाने वाला पहला बड़ा वैश्विक क्रिकेट टूर्नामेंट होगा। इससे पहले पाकिस्तान ने भारत और श्रीलंका के साथ पुरुष क्रिकेट विश्व कप की मेजबानी की थी।

    जिसके बाद 2026 में भारत और श्रीलंका पुरुषों के टी 20 विश्व कप की मेजबानी करेंगे। अक्टूबर / नवंबर 2027 में नामीबिया पहली बार जिम्बाब्वे और दक्षिण अफ्रीका के साथ पुरुष क्रिकेट विश्व कप की मेजबानी करेगा। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे ने आखिरी बार 2003 में आयोजन किया था। वहीं अक्टूबर 2028 में टी20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेला जाएगा और 12 महीने बाद भारत चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करेगा।

    गौरतलब है कि 2030 में इंग्लैंड आयरलैंड और स्कॉटलैंड के साथ टी20 विश्व कप की मेजबानी की जिम्मेदारी साझा करेंगे। यह पहली बार होगा जब 1999 के बाद आयरलैंड और स्कॉटलैंड ने किसी बड़े वैश्विक क्रिकेट आयोजन की मेजबानी करेंगे। इस आठ व्हाइट-बॉल टूर्नामेंट की अंतिम निर्धारित कार्यक्रम अक्टूबर / नवंबर 2031 में खेला जाने वाला पुरुष क्रिकेट विश्व कप जिसकी मेजबानी भारत और बांग्लादेश में  करेगा। 

    मार्टिन स्नेडेन की अध्यक्षता में नामित किया गया

    सभी मेजबानों को सौरव गांगुली और रिकी स्केरिट के साथ मार्टिन स्नेडेन की अध्यक्षता में एक बोर्ड उप-समिति की देखरेख में एक प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया के माध्यम से नामित किया गया।

    जिसने बोली प्रस्तुत की में उसको धन्यवाद देता हूं- ICC के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले

    ICC के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले ने कहा, “हमें ICC आयोजनों के लिए पहली बार इस प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया को समाप्त करने की खुशी है। 8 आयोजनों की मेजबानी करने वाले 14 सदस्यों (देश) का होना हमारे खेल की सही मायने में वैश्विक प्रकृति का प्रतिबिंब है और मैं धन्यवाद देना चाहता हूं प्रत्येक सदस्य जिसने बोली प्रस्तुत की है और सफल बोलीदाताओं को हमारी बधाई देता हूं।

    उन्होंने कहा, “पिछले कई मेजबानों में लौटना शानदार है, लेकिन इस प्रक्रिया के बारे में वास्तव में रोमांचक बात यह है कि वे देश जो पहली बार आईसीसी कार्यक्रमों का आयोजन करेंगे, जिसमें यूएसए भी शामिल है जो हमारे लिए रणनीतिक विकास बाजार है। इससे हमें मौका मिलता है पारंपरिक क्रिकेट देशों में प्रशंसकों के साथ हमारे संबंध को गहरा करने और दुनिया भर में नए प्रशंसकों तक पहुंचने के लिए।”

    पसंदीदा मेजबानों को आयोजनों का पुरस्कार मेजबान समझौतों के पूरा होने के अधीन है और आईसीसी अब व्यवस्थाओं को अंतिम रूप देने के लिए सदस्यों के साथ मिलकर काम करेगा। 17 सदस्यों ने आठ आईसीसी पुरुषों की व्हाइट-बॉल स्पर्धाओं की मेजबानी के लिए कुल 28 प्रस्ताव प्रस्तुत किए।