किसके बोलने पर विराट कोहली ने छोड़ी कप्तानी? अब क्यों पीछे पड़े हैं रवि शास्त्री, जानिए पूरा मामला

    -विनय कुमार

    टीम इंडिया के धांसू कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के ‘ICC T20 WORLD CUP TOURNAMENT, 2021’ के बाद T20 टीम की कप्तानी छोड़ने की घोषणा के बाद से इस एंग्री यंग मैन कप्तान को लेकर कई बातें अब सामने आ रही हैं। कई हैरान करने वाली बातों का उजागर हो रहा है। अब ताज़ा खबर ये है कि और टीम इंडिया के चीफ कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri Head Coach) ही थे, जिन्होंने विराट कोहली को भारत की T20 और ODI टीम की कप्तानी छोड़ने की सलाह दी थी।

    हालांकि, उन्होंने कोच रवि शास्त्री की एक सलाह नहीं मानी। रवि शास्त्री का मानना ये था कि दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाने वाले विराट कोहली अपनी बल्लेबाजी पर ज्यादा ध्यान दे। गौरतलब है की आज से करीब 5 साल, यानी 2017 से विराट कोहली क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट T20, ODI और टेस्ट टीम, के रेगुलर कप्तान के तौर पर अपनी जिम्मेदारियां संभाल रहे हैं। ‘कैप्टेन कूल’ के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली ने भारतीय क्रिकेट टीम की कमान संभालनी शुरू की।

    खबरों के मुताबिक, विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी लेने या बदलने को लेकर चर्चा उस दरम्यान शुरू हुई, जब कोहली की गैरमौजूदगी में टीम इंडिया ने कुछ बेहतरीन और कठिन ही जीते। गौरतलब है कि, भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे में चार में से तीन टेस्ट मैचों में विराट कोहली वहां नहीं थे। उनकी मौजूदगी में भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्ट मैच बुरी तरह हार गया था। लेकिन, उसके बाद विराट पैटरनिटी लीव पर भारत लौट गए।

    उस दौरे में भारत ने अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को जबरदस्त पानी पिला- पिलाकर हराया और ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। सूर्य बताते हैं की उसके करीब 6 महीने पहले ही विराट कोहली से टीम के हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कप्तानी छोड़कर बल्लेबाजी में फोकस करने की सलाह दी थी। लेकिन, कप्तान कोहली शास्त्री की सलाह को एक कान से सुनकर दूसरे से निकाल दिए और  उन्होंने भारत की वनडे क्रिकेट टीम की कप्तानी का मुंह नहीं त्यागा। ऐसे में एक बात ये भी समझ में आती है कि अगर  2023 से पहले सबकुछ ठीक तरह से नहीं चला तो विराट कोहली को वनडे टीम की कप्तानी भी छोड़नी पद सकती है।

    हालांकि, खबर तो ये भी है कि विराट कोहली (Virat Kohli) अभी भारतीय वनडे टीम की कमान नहीं छोड़ना चाहते, बल्कि कप्तानी करना चाहते हैं। यही कारण है कि उन्होंने अभी T20 टीम की की कप्तानी छोड़ने का निर्णय लिया।  हालांकि, टीम मैनेजमेंट इस बात पर भी गौर कर रहा है कि चूंकि विराट कोहली एक बेहतरीन और विस्फोटक बल्लेबाज हैं, उनके बल्ले के जोर की शोर और देखने के लिए उनको एक बल्लेबाज के तौर पर खास तवज्जो देना ठीक रहेगा। और, उनकी जिम्मेदारियां काम की जा सकती है। 

    वहीं एक सच ये भी है कि उनके बल्ले से दो साल से भी ज्यादा हो गए एक बेहतरीन शतक नहीं निकला। इस कारण भी विराट कोहली सवालों के घेरे में आ गए हैं। हालांकि, अब जब विराट ने ‘ICC T20 WORLD CUP TOURNAMENT, 2021’ के बाद भारतीय टी टीम और IPL में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (Royal Challengers Bengaluru RCB) की टीम की कप्तानी छोड़ने की घोषणा कर दी है, भारतीय क्रिकेट टीम के कोच मानों उनके पीछे ही पड़ गए और के रहे हैं कि विराट ने उनकी वनडे टीम की कप्तानी छोड़ने की सलाह नहीं मानी।

    ऐसे हालातों में इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) के लिए आने वाले दिन बड़े मुश्किलों से घिरे और चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं। कोहली को अगर अपनी बादशाहत कायम रखने है तो उन्हें बड़ी जीत दिलाने के साथ अपने बल्ले की गर्मी दिखानी होगी।