Ireland defeated Afghanistan

Loading

अबुधाबी: आयरलैंड (Ireland) ने टेस्ट दर्जा हासिल करने के करीब सात वर्ष बाद शुक्रवार को यहां एकमात्र टेस्ट में अफगानिस्तान (Afghanistan) को छह विकेट से हराकर क्रिकेट के लंबे प्रारूप में पहली जीत दर्ज की। आयरलैंड को जीत के लिए दूसरी पारी में 111 रन का लक्ष्य मिला और उसने कप्तान एंडी बालबर्नी ने 96 गेंद में नाबाद 58 रन से आठ टेस्ट में पहली जीत हासिल की। इससे पहले तेज गेंदबाज मार्क एडेयर ने आठ विकेट (39 रन देकर पांच और 56 रन देकर तीन विकेट) हासिल किये। 

अफगानिस्तान की पहली पारी 54.5 ओवर में 155 रन पर सिमट गयी जिसमें एडेयर ने पहली बार पांच विकेट झटकने का कारनामा किया। क्रेग यंग और कर्टिस कैम्फर ने दो दो विकेट चटकाये।अगर इब्राहिम जदरान ने 53 रन और करीम जनत (नाबाद 41 रन) ने अंत में टिककर बल्लेबाजी नहीं की होती तो अफगानिस्तान की टीम पहली पारी में इससे भी कम स्कोर पर सिमट गयी होती।

जवाब में आयरलैंड ने पॉल स्टर्लिंग (52 रन), कैम्फर (49 रन), लोरकान  टकर (46 रन), एंडी मैकब्राइन (38 रन) और हैरी टेक्टर (32 रन) की मदद से पहली पारी में 263 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर 108 रन की बढ़त हासिल की। दूसरी पारी में अफगानिस्तान की टीम 218 रन ही बना सकी जिसके लिए कप्तान हशमतुल्लाह शाहिदी ने 55 रन और रहमनुल्लाह गुरबाज ने 46 रन का योगदान दिया।

इससे आयरलैंड को जीत के लिए 111 रन का लक्ष्य मिला। अफगानिस्तान ने आयरलैंड के 13 रन पर तीन विकेट झटक लिये थे। लेकिन बालबर्नी के अर्धशतक से टीम जीत हासिल करने में सफल रही। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 22 जून 2017 को आयरलैंड को पूर्ण सदस्य बनाने की पुष्टि की थी। तब से टीम ने सात मैच गंवाये हैं जिसमें दो बार इंग्लैंड और श्रीलंका से उसे हार मिली। इसके बाद पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से एक एक हार झेलनी पड़ी। दिलचस्प बात है कि अफगानिस्तान ने भी टेस्ट में अपनी पहली जीत आयरलैंड के खिलाफ ही दर्ज की थी जो उसे 2019 में मिली थी।