india-vs-australia-ajinkya-rahane-team-india-miss-ishant-sharma-no-decision-combination

-विनय कुमार

भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच खेली जा रही 4 मैचों की टेस्ट सीरीज ‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफ़ी’ (Border-Gavaskar Trophy Test Series, 2020-21) का दूसरा मैच 26 दिसंबर को मेलबर्न (Melbourne) में खेला जाएगा। ‘बॉक्सिंग डे’ पर खेले जाने वाले इस मैच (Boxing Day Test Match) से पहले, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भारत लौट चुके हैं। क्योंकि, जनवरी 2021 में वो पिता बनने वाले हैं और वो पैटर्निटी लीव (Virat Kohli on Paternity Leave) पर है। भारत लौटने के बाद 14 दिन के क्वारंटीन रहने के बाद विराट अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) से मिलेंगे।

विराट कोहली के स्वदेश लौटने के बाद सीरीज के बाकी के 3 टेस्ट मैच (Australia vs India Border-Gavaskar Trophy) अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में खेले जाएंगे।

विराट कोहली की गैरमौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया का प्रदर्शन कैसा होगा, टीम की कप्तानी बदलने पर क्या असर पड़ेगा? इन सभी सवालों को लेकर चर्चा भी हो रही है। भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज तेज़ गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी पर पूरा भरोसा दिखाए हुए उनकी खूब तारीफ़ की है। साथ ही उन्हें गेंदबाजों का कप्तान भी बताया।

टीम इंडिया के घातक गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma), जो चोटिल होने के कारण सीरीज से बाहर हैं, उनका मानना है कि अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) खिलाड़ियों की शांतिपूर्वक अच्छे से सुनते हैं। इसलिए उन्हें गेंदबाजों का कप्तान बोलना गलत नहीं होगा।

‘ESPNcricinfo’ से बातचीत में ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने कहा, “अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) भले ही काफी चुप रहते हैं, उनमें आत्मविश्वास भरा हुआ है। मेरे हिसाब से वह गेंदबाजों के कप्तान हैं। हम जब भी साथ खेले और मैदान पर विराट नहीं रहे, तो वो गेंदबाज से पूछते हैं कि उन्हें कैसी फील्ड चाहिए। वह कभी भी खिलाड़ियों को ऑर्डर नहीं देते हैं। उन्हें अच्छी तरह से पता होता है कि उन्हें टीम से क्या चाहिए।”

ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने विराट कोहली की कप्तानी की भी तारीफ़ की। उन्होंने कप्तान कोहली को लेकर कहा कि मैदान पर जब भी कोई पार्टनरशिप लंबी हो रही हो और खिलाड़ियों में एनर्जी कम दिखने लगे, तो विराट उन खिलाड़ियों में जोश भरने का काम करते हैं। इससे मैच का चेहरा बदल जाता है। वहीं रहाणे काफी मजाकिया इंसान हैं। खेल के दौरान दबाव के वक्त वो शांत रहते हैं और गेंदबाजों के साथ लगातार बात करके तनाव नहीं होने देते हैं।”

ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) मानते हैं कि  ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफ़ी’ (Border-Gavaskar Trophy Test Series, 2020-21) टेस्ट सीरीज के बचे हुए 3 मैचों में अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) अच्छी कप्तानी करेंगे। साथ ही, भारत को जीत की राह पर लेकर लाएंगे।

गौर करने वाली बात है कि अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane Captain) 2 बार भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी कर चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया (Australia) और अफगानिस्तान (Afghanistan) के खिलाफ खेले गए उन मैचों को भारत ने अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में जीता भी था।